देसी-विदेशी फल-फूलों से होगी शिवखोड़ी धाम की सजावट

देसी-विदेशी फल-फूलों से होगी शिवखोड़ी धाम की सजावट

राकेश शर्मा कटड़ा प्रसिद्ध भोले बाबा के शिवखोड़ी धाम की महाशिवरात्रि पर्व पर देसी-विदे

JagranWed, 03 Mar 2021 08:46 AM (IST)

राकेश शर्मा, कटड़ा :

प्रसिद्ध भोले बाबा के शिवखोड़ी धाम की महाशिवरात्रि पर्व पर देसी-विदेशी फल-फूलों से सजावट की जाएगी। वहीं, शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा महाशिवरात्रि पर्व पर चार दिवसीय लंगर का आयोजन करेगी। यह लंगर चौबीसों घंटे श्रद्धालुओं को उपलब्ध रहेगा। इसके लिए शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

कटड़ा से करीब 80 किलोमीटर दूर जिला रियासी की तहसील पौनी में प्रसिद्ध शिवखोड़ी धाम में महाशिवरात्रि पर्व पर देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं को देसी-विदेशी फल-फूलों की सजावट देखने को मिलेगी। शिवखोड़ी धाम प्रांगण के साथ ही सीढ़ी मार्ग की भव्य सजावट देसी-विदेशी फल-फूलों से की जाएगी। शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा के प्रधान शशि गुप्ता ने बताया कि मंडली की ओर से शिवखोड़ी प्रांगण की भव्य सजावट के साथ प्राचीन और कृत्रिम गुफा की भी सजावट होगी। इसके साथ ही दिव्य व अलौकिक आप शंभू की भी सजावट देसी-विदेशी फल-फूलों से की जाएगी, जिस पर करीब 8,00,000 रुपये खर्च आएंगे। ये फल-फूल भारत के विभिन्न राज्यों के अलावा श्रीलंका, कनाडा, ब्रिटेन, आस्ट्रेलिया आदि से विशेष रूप से मंगाए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी महाशिवरात्रि पर्व पर पवित्र शिवखोड़ी धाम स्थल पर शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा चार दिवसीय लंगर का आयोजन करेगी। यह मंडली की ओर से 54वां लंगर होगा। यह लंगर नौ से 12 मार्च तक 24 घंटे लगातार जारी रहेगा। लंगर में देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं को कई प्रकार के व्यंजन परोसे जाएंगे, जिनमें डोगरी व्यंजन, पंजाबी पकवान, साउथ इंडियन, चाइनीज, हलवा-पूड़ी, चाय, काफी, डोसा, राजमा-चावल, पराठे आदि शामिल है। दिव्य आरती में शामिल होंगे मां वैष्णो देवी के मुख्य पुजारी

शशि गुप्ता ने बताया कि महाशिवरात्रि पर्व पर सुप्रसिद्ध शिवखोड़ी धाम में आयोजित होने वाली दिव्य पूजा व आरती में मां वैष्णो देवी के मुख्य पुजारी अमीर चंद विशेष रूप से शामिल होंगे और भोले बाबा की पूजा-अर्चना करेंगे। वर्ष 1968 में स्थापित हुई थी शिवखोड़ी मंडली

शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा के प्रधान शशि गुप्ता ने बताया कि मंडली के संस्थापक सदस्य स्व. विश्वनाथ अरोड़ा, मदन तरमट, काकू परोच, शंकर पंडित, शादी लाल आदि ने वर्ष 1968 में इस मंडली की स्थापना की थी। शुरुआत के दिनों में मंडली के संस्थापक सदस्यों ने शिवखोड़ी धाम गुफा परिसर में एक छोटे से लंगर की शुरुआत की थी और अब विशाल लंगर लगाया जाता है। लंगर को सफल बनाने के लिए मंडली के 100 से अधिक सदस्य अपनी सेवाएं देते हैं। लंगर को सफल बनाने के लिए हुई बैठक

शिवखोड़ी मंडली जनता कटड़ा ने महाशिवरात्रि पर्व पर आयोजित किए जाने वाले लंगर के साथ ही सजावट आदि को लेकर बैठक की। बैठक की अध्यक्षता प्रधान शशि गुप्ता ने की। इस मौके पर चेयरमैन केवल पादा, सुरेंद्र खजूरिया, कूका केसर, श्याम पादा, सुभाष पराशर, विजय पादा, अरुण शर्मा कालू, रोशन लाल, रिकू अबरोल, बिट्टू दवे के अलावा अन्य सदस्य मौजूद थे। बैठक में निर्णय लिया गया कि मंडली शिवखोड़ी धाम में सजावट के साथ ही लंगर आदि लगाने के लिए आठ मार्च को आधार शिविर कटड़ा से सामान सहित रवाना होगी, ताकि सभी कार्य समय पर पूरे कर लिए जाएं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.