सीआरपीएफ ने वन विभाग के साथ मिलकर लगाए एक हजार पौधे

कटड़ा संवाद सहयोगी सीआरपीएफ 06 बटालियन ने कटड़ा के साथ लगते गाव आखली-भूटान में वन विभाग के

JagranMon, 26 Jul 2021 01:17 AM (IST)
सीआरपीएफ ने वन विभाग के साथ मिलकर लगाए एक हजार पौधे

कटड़ा, संवाद सहयोगी : सीआरपीएफ 06 बटालियन ने कटड़ा के साथ लगते गाव आखली-भूटान में वन विभाग के साथ मिलकर करीब एक हजार पौधे लगाए। इस बरसात के मौसम में नौ हजार पौधे लगाने का लक्ष्य पूरा कर लिया गया। रविवार को पौधारोपण अभियान में सीआरपीएफ हीरानगर रेंज के डीआइजी देवेंद्र यादव मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। उन्होंने पौधा लगाकर अभियान की शुरुआत की और कहा कि पेड़ ही जीवन है। पेड़ हैं तो हम हैं। जितने अधिक पेड़ लगाए जाएंगे, उतना ही वातावरण शुद्ध होगा।

सीआरपीएफ 06 बटालियन के कमाडेंट जितेंद्र कुमार गुप्ता ने कहा कि पौधा सिर्फ लगाना नहीं है, बल्कि इसकी देखभाल भी करनी है। तब तक इसकी रक्षा करनी है, जब तक पौधा पेड़ ना बन जाए। तभी पौधारोपण अभियान को सफल माना जाएगा। अभियान में शामिल डीएफओ रियासी ज्योत्सना सरकार ने कहा कि पौधारोपण अभियान में विभाग द्वारा आमजन को पूरी तरह से शामिल किया जा रहा है ताकि लोगों को पेड़ की महत्ता के बारे में पता चल सके कि उनका जीवन में कितना महत्व है। लिहाजा पंचायत प्रतिनिधियों को भी अभियान में शामिल किया गया।

इस अभियान ने सीआरपीएफ ने वन विभाग के सहयोग से विभिन्न प्रजातियों के करीब 1000 पौधे लगाए, जिनमें अमरूद, जामुन, आमला, अर्जुन, लोगाठ, रतनजोत, गलाका आदि प्रमुख हैं। वहीं इस अभियान को जारी रखते हुए इसी वन क्षेत्र में विभिन्न प्रजातियों के 2000 और ज्यादा पौधे लगाए जाएंगे। इस मौके पर वन विभाग के अधिकारी मनोहर आनंद, सीआरपीएफ अधिकारी नरेंद्र कुमार सारण, रवि शकर शर्मा, शिल्क राम, अनिल कुमार, अनिल कुमार खत्री, डॉक्टर भानु प्रताप सिंह, गाव आखली- भूटान के सरपंच रवि कुमार, बसा हुसैन, गोविंद राम, नारायण दास, बरकत अली, ज्योति, सुरेश कुमारी के अलावा सीआरपीएफ 06 बटालियन व वन विभाग के अन्य अधिकारी व जवान मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.