Terrorism in Kashmir: सुरक्षाबलों ने शोपियां में चार आतंकी घेरे, पुलवामा में भी तलाशी अभियान

दक्षिण कश्मीरमें आतंकियों को पकडऩे के लिए तलाशी अभियान बुधवार देर रात तक जारी रहा।

तीन से चार आतंकी शोपियां के तुरकवांगन इलाके में छिपे हुए हैं। पुलिस ने सेना की 44 आरआर व सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर तुरकवांगन में घेराबंदी करते हुए आतकियों की तलाश शुरू कर दी। सभी रास्तों को बंद कर दिया गया।

Publish Date:Thu, 12 Nov 2020 03:00 AM (IST) Author: lokesh.mishra

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। दक्षिण कश्मीर के तुरकवांगन शोपियां में छिपे आतंकियों को पकडऩे के लिए बुधवार की सुबह से शुरू हुआ तलाशी अभियान देर रात तक जारी है। आधी रात तक सुरक्षाबल इलाके को घेरे हुए थे। इस बीच, टहाब पुलवामा में भी सुरक्षाबलों ने घेराबंदी करते हुए आतंकी ठिकाना होने के संदेह में करीब दो दर्जन मकानों की तलाशी ली।

पुलिस को पता चला था कि तीन से चार आतंकी शोपियां के तुरकवांगन इलाके में छिपे हुए हैं। पुलिस ने उसी समय सेना की 44 आरआर व सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर तुरकवांगन में घेराबंदी करते हुए आतकियों की तलाश शुरू कर दी। सभी रास्तों को बंद कर दिया गया।

कई घरों की तलाशी ली गई। कुछ युवकों से भी संदेह के आधार पर पूछताछ की गई, लेकिन किसी को हिरासत में नहीं लिया गया। सूत्रों ने बताया कि जिन आतंकियों के छिपे होने की सूचना है, उनके परिजनों को गांव में बुलाकर उनसे लाउडस्पीकर के जरिये आत्मसमर्पण के लिए अपील कराई गई, लेकिन आतंकियों की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है। एक अधिकारी ने अपना नाम न छापे जाने की शर्त पर बताया कि गांव में आतंकी किसी जगह अपने गुप्त ठिकाने पर हैं। इसलिए घेराबंदी को जारी रखते हुए सभी संभावित जगहों की जांच की जा रही है।

 वहीं, पुलवामा में बुधवार की शाम करीब छह बजे पुलिस को पता चला कि दो से तीन हथियारबंद आतंकियों को बाबगुन टहाब में देखा गया है। सुरक्षाबलों ने उसी समय पूरे इलाके को घेर तलाशी अभियान चलाया। जवानों ने गांव में करीब एक दर्जन मकानों की तलाशी भी ली, लेकिन आतंकियों का कोईसुराग नहीं मिला।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.