Encounter In Kulgam: जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ खत्म, दो आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले के चिनगाम इलाके में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

Encounter In Kulgam जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir) के कुलगाम (Kulgam) के चिनगाम इलाके (Chingam area) में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ अब खत्‍म हो चुकी है पुलिस से मिली सूचना के अनुसार इस मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गये हैं।

Publish Date:Sat, 10 Oct 2020 07:36 AM (IST) Author: Babita kashyap

श्रीनगर, एएनआइ। जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir) के कुलगाम  (Kulgam) जिले के चिनगाम इलाके  (Chingam area) में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच अब खत्‍म हो चुकी है। कश्मीर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार इस मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गये हैं। दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के चिनगाम के काला दरंग गांव में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच ये मुठभेड़ शुक्रवार देर रात शुरु हुई थी। सुरक्षाबलों ने रात को ही पूरे गांव की घेराबंदी कर ली थी। इस संबंध में सुरक्षाबलों को शुक्रवार देर रात खुफिया जानकारी मिली थी कि कुछ आतंकी अपने संपर्क सूत्र के घर में कोई बड़ी योजना बना रहे हैं। जिसे देखते हुए सेना, पुलिस व सीआरपीएफ जवानों ने चिनीगाम काला दरंग के आने-जाने वाले रास्तों को बंद कर पूरे गांव को घेर लिया था। 

 गौरतलब है कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर माहौल खराब करने की लगातार कोशिश कर रहा है। बीती 9 अक्‍टूबर को भी पाकिस्तानी सेना ने कश्मीर के कुपवाड़ा में स्थित नौगाम सेक्टर में भारतीय सैन्य व नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी की थी। इस गोलीबारी के जवाब में भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तानी ठिकानों पर निशाना साधा था। इससे एक दिन पहले 8 अक्‍टूबर की रात को भी कठुआ जिले में गोलाबारी हुई थी। नौगाम सेक्टर में स्थित भारतीय सैन्य व अन्‍य ठिकानों पर पाकिस्तान ने सुबह ही तोप और मोर्टार दागने शुरु कर दिये थे। कई गोले यहां के गांव में खेतों और सैन्य चौकियों के आसपास गिरे थे। हालांकि इनमें किसी प्रकार का जानमाल का नुकसान नहीं हुआ था, हमले की आशंका को देखते ही ग्रामीण बंकरों में छिपे गये थे।

भारतीय सेना ने इस गोलाबारी का करारा जवाब दिया जिसके कुछ समय बाद पाकिस्‍तान से गोलाबारी बंद हो गई थी। बता दें कि इससे पहले नौगाम सेक्टर में ही 1 अक्टूबर 2020 को पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में दो सैन्यकर्मी भी शहीद हुए थे। पाकिस्तानी रेंजरों ने इससे पहले वीरवार रात को कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में चांदवा, कोठा क्षेत्र में मशीनगनों से फायरिंग की थी। उसके बाद शुक्रवार तड़के चार बजे तक पाकिस्‍तान की ओर से रुक-रुककर फायरिंग जारी रही। इस सेक्टर में लगातार जारी गोलीबारी ने किसानों के लिए मुश्किलें बढ़ा दी हैं। यहां के खेतों में इस समय धान की फसल पक कर तैयार है लेकिन पाकिस्‍तान की ओर से लगातार हो रही गोलीबारी के कारण फसल की कटाई करने में दिक्कत आ रही है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.