धन स्वीकृत होने के दो साल बाद भी नहीं बदला गया ब्लड बैंक का रेफ्रिजरेटर

संवाद सहयोगी सुंदरबनी स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का अंदाजा इसी से लगाया जाता है कि सुंदरब

JagranSat, 27 Nov 2021 06:10 AM (IST)
धन स्वीकृत होने के दो साल बाद भी नहीं बदला गया ब्लड बैंक का रेफ्रिजरेटर

संवाद सहयोगी, सुंदरबनी : स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का अंदाजा इसी से लगाया जाता है कि सुंदरबनी उपजिला अस्पताल में खराब पड़े ब्लड बैंक के रेफ्रिजरेटर को बदलने के लिए दो वर्ष पहले ही डीसी राजौरी ने पैसे दे दिए थे, लेकिन अभी तक रेफ्रिजरेटर नहीं बदला गया। वहीं, अस्पताल में डाक्टरों की भी कमी है, जिससे आपात स्थिति में मरीजों को जीएमसी जम्मू रेफर कर दिया जाता है। कई बार गंभीर हालत में मरीजों की मौत भी हो जाती है।

सुंदरबनी उपजिला अस्पताल में डाक्टरों की कमी के साथ रुके पड़े अस्पताल की इमारत के निर्माण कार्य, अवैध पार्किंग, खराब पड़े ब्लड बैंक के रेफ्रिजरेटर सहित कई अन्य मुद्दों पर स्वास्थ्य विभाग गंभीर नहीं है। इससे स्थानीय लोगों में स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ रोष बढ़ता जा रहा है। हर वर्ष संस्थाओं की ओर से रक्तदान शिविरों का आयोजन सुंदरबनी में किया जाता है। इन शिविरों में रक्तदान किए गए खून को उपजिला अस्पताल के ब्लड बैंक का रेफ्रिजरेटर खराब होने के कारण संस्थाएं जम्मू या राजौरी लेकर चली जाती हैं, क्योंकि उपजिला अस्पताल में ब्लड को सुरक्षित रखने की व्यवस्था ही नहीं है।

हर बार सड़क दुर्घटनाओं से लेकर सुंदरबनी उपजिला अस्पताल सहित आस-पास के निजी अस्पतालों में प्रतिदिन होने वाले प्रसव और आपरेशन के दौरान रक्त की आवश्यकता पड़ने पर मरीजों को आनन-फानन में राजकीय मेडिकल कालेज जम्मू रेफर किया जाता है। ऐसे में कई किलोमीटर की लंबी दूरी तय करने के लिए मरीज को भगवान भरोसे छोड़ दिया जाता है।

सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार, विरेंद्र सिंह, तरुण, विवेक कुमार, राकेश कुमार, कुलदीप सिंह आदि ने कहा कि व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने को लेकर स्वास्थ्य विभाग उदासीन नजर आ रहा है। वहीं, दूसरी तरफ शहर के स्थानीय गणमान्य लोगों का कहना है कि दर्जनों उच्च अधिकारी अस्पताल का दौरा कर व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के सख्त निर्देश कई बार जारी कर चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद आज तक अस्पताल में बिगड़ी व्यवस्थाओं को ठीक करने के लिए कोई पहल नहीं की गई है। लोगों ने उपराज्यपाल से मांग करते हुए कहा है कि अस्पताल में बिगड़ी व्यवस्थाओं को जल्द से जल्द दुरुस्त किया जाए, जिससे लोगों को राहत मिल सके। उपजिला अस्पताल के ब्लड बैंक के रेफ्रिजरेटर के दो वर्ष से खराब रहने से लोगों को आपात स्थिति में कई प्रकार की परेशानियों से जूझना पड़ता है। मरीज को खून की जरूरत पड़ने पर उसे तुरंत जीएमसी जम्मू रेफर कर दिया जाता है, जिसे तमाम समस्याएं मरीज व उसके स्वजनों को झेलनी पड़ती हैं। उनकी जेब तो ढीली होती ही है, कई बार मरीज मौत के मुंह में चला जाता है। ऐसे में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मांग की जाती है कि इस ब्लड बैंक को सुचारु ढंग से चलाने के लिए जल्द से जल्द उचित कदम उठाया जाए।

- विवेक शर्मा, सामाजिक कार्यकर्ता, सुंदरबनी स्वास्थ्य विभाग को ब्लड बैंक के रेफ्रिजरेटर को बदलने के लिए जल्द से जल्द उचित कदम उठाने चाहिए। दो साल से अधिक समय बीत जाने के बाद भी पैसा होने पर भी विभाग उसे सही नहीं कर सका। इससे साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि स्वास्थ्य विभाग कैसे कार्य कर रहा है। मैं 65 से अधिक बाद रक्तदान कर चुका हूं, लेकिन यहां लोगों द्वारा दान किया गया खून बाहर चला जाता है, क्योंकि यहां उसे सुरक्षित रखने की व्यवस्था ही नहीं है।

वीरेंद्र सिंह चिब, सामाजिक कार्यकर्ता, सुंदरबनी अन्य कई समस्याओं से भी जूझ रहा अस्पताल

वर्षो से अधार में लटकी सुंदरबनी उपजिला अस्पताल की नई इमारत का निर्माण कार्य पूरा न हो पाने के कारण स्वास्थ्य विभाग को भी भारी परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। पुरानी इमारत के अंदर जगह कम होने के कारण वेंटिलेटर, अल्ट्रासाउंड मशीन आदि को स्वास्थ्य विभाग जैसे-तैसे करके चला रहा है। दूसरी तरफ अस्पताल में सर्जन डाक्टर न होने के कारण मरीजों को भारी मुश्किलों से जूझना पड़ रहा है। आपातकालीन स्थिति में मरीजों को भारी मुश्किलों का सामना कर कई किलोमीटर लंबा सफर तय करके जम्मू जाना पड़ रहा है। वहीं, दूसरी तरफ अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए भी लोगों को निजी क्लीनिक में जाकर अपनी जेब ढीली कर अल्ट्रासाउंड करवाना पड़ रहा है। अस्पताल के खराब पड़े ब्लड बैंक के रेफ्रिजरेटर को बदलने के लिए उच्चाधिकारियों को लिखित में भेज दिया गया है। उम्मीद करते हैं कि बहुत जल्द खराब पड़े अस्पताल के रेफ्रिजरेटर को बदल दिया जाएगा। यह सच है कि अस्पताल में खराब पड़े ब्लड बैंक रेफ्रिजरेटर के कारण मरीजों को मुश्किलों से जूझना पड़ रहा है।

- डाक्टर मंजूर हुसैन, ब्लाक मेडिकल आफिसर, सुंदरबनी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.