बारिश बनी आफत, गांवों में कई कच्चे मकान गिरे

संवाद सहयोगी बसोहली/बिलावर गांवों में बारिश के दौरान कच्चे मकानों के गिरने का सिलसिला जारी है

JagranTue, 03 Aug 2021 12:52 AM (IST)
बारिश बनी आफत, गांवों में कई कच्चे मकान गिरे

संवाद सहयोगी, बसोहली/बिलावर: गांवों में बारिश के दौरान कच्चे मकानों के गिरने का सिलसिला जारी है। बसोहली उपजिले की पंचायत द्रमन के गाव पुराना खुजरा में बारिश के कारण एक महिला का मकान ढह गया, जिससे मकान के भीतर पड़ा सारा सामान भी खराब हो गया।

जानकारी अनुसार पुण्डो देवी पत्नी कृष्णो निवासी खजूरा का कच्चा मकान भारी बारिश में धाराशायी हो गया। मकान के अंदर पड़ी खाद्य सामग्री के साथ ही कपड़े बिस्तर समेत अन्य घरेलू सामान भी खराब हो गया। इसके कारण महिला की परेशानिया बढ़ गई हैं। इसी तरह, बग्गन ब्लॉक की अप्पर बग्गन पंचायत में बारिश के चलते कच्चे मकानों के गिरने का सिलसिला जारी है। सरपंच अप्पर बग्गन सुरेंद्र सिंह ने बताया कि पंचायत के वार्ड 6 निवासी बिशन दास पुत्र गुन्नु राम का कच्चा मकान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। उन्होंने बताया कि मकान टूटने से सारी संपत्ति मलबे के नीचे दबने के कारण बर्बाद हो गई है और लाखों का नुकसान हुआ है। सरपंच ने बताया कि पंचायत ने परिवार को पड़ोसियों के यहा सुरक्षित निकालकर रहने की व्यवस्था की है। उन्होंने प्रशासन से प्रभावित परिवार को तुरंत टेंट व खाने पीने का सामान मुहैया करवाने की माग की है और प्रभावित परिवार के नुकसान का आंकलन करवा कर राहत देने के लिए गुहार लगाई है।

बहरहाल, प्रधानमंत्री आवास योजना पर भी प्रश्न चिन्ह लग गया है, क्योंकि एक ओर केंद्र सरकार गरीबों को पक्के मकान बनाने के लिए आíथक मदद देने के लिए पीएमएवाई योजना शुरू की है, वहीं गरीबों को योजना का लाभ आज तक नहीं पहुंच पा रहा है। बारिश में गरीबों को दरबदर नहीं होना पड़ता। प्रशासन को ऐसे लाभाíथयों को प्राथमिकता के आधार पर योजना का लाभ देने के लिए आगे आना चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.