बिजली विभाग ने टहनियों पर लटक रहे तारों की मरम्मत का कार्य शुरू किया

बिजली विभाग ने टहनियों पर लटक रहे तारों की मरम्मत का कार्य शुरू किया

संवाद सहयोगी हीरानगर क्षेत्र में बिजली की तारों की स्पाìकग की वजह से पिछले तीन-चार दिनों में हुइ

JagranTue, 13 Apr 2021 12:03 AM (IST)

संवाद सहयोगी, हीरानगर : क्षेत्र में बिजली की तारों की स्पाìकग की वजह से पिछले तीन-चार दिनों में हुई आगजनी की घटनाओं से गेहूं की फसल को काफी नुकसान पहुंचा। इसी को ध्यान में रखते हुए बिजली विभाग ने पेड़ों में लटकी हुई तारों की मरम्मत का काम शुरू कर दिया है।

सोमवार को विभाग के कर्मचारियों ने हीरानगर बोबिया फीडर की लाइन की मरम्मत करवाई। इस दौरान उन्होंने कूंथल, खनक, सपालमा, करोल, लडवाल आदि गावों में 11हजार केवी लाइन के नीचे पेड़ों की टहनियों की शाग तराशी करवा कर तारों की मरम्मत करवाई। इस दौरान फीडर के अंतर्गत 15 गावों में सुबह 9 बजे से शाम पाच बजे तक बिजली बंद रही। हीरानगर सब डिवीजन के एईई रमन सिंह राठौर के अनुसार गर्मी के दिनों में अक्सर आधी तूफान चलने से तारों में फाल्ट आने से आग लगने की संभावना ज्यादा रहती है, जिसे देखते हुए बोबिया फीडर की लाइन की मरम्मत का काम शुरू किया गया है। कुछ स्थानों पर लाईन जंगल से गुजरती है और टहनियों से तारों के टकराने से अक्सर फाल्ट आ जाता है। टहनिया काटने के लिए लाइनमैन के साथ-साथ मजदूर भी काम कर रहे हैं। इसके बाद दूसरे गावों में भी मरम्मत करवाई जाएगी। जब तक गेहूं की कटाई नहीं हो जाती। स्थानीय लोगों को भी थोड़ा ध्यान देना चाहिए और जिन खेतों में तारें नीचे लटकी हुई है, वहा पंप सेटों को कम चलाएं, ताकि लोड न बढ़े क्योंकि लोड बढ़ने से भी कई बार तारें टूट जाती है।

उधर, बनी में जैसे-जैसे लोग पर्यटक स्थल सरथल की तरफ जाने शुरू हुए हैं तो वहा बिजली सप्लाई सुचारू करने की भी माग उठने लगी।

दरअसल, नवंबर माह से लेकर अप्रैल तक कोई भी लोग नहीं रहते हैं, जिसके कारण बिजली की सप्लाई काट दी जाती है। अब तापमान बढ़ने के साथ ही लोगों का आना जाना शुरू हो गया तो दुकानदार समेत अन्य लोग बिजली सप्लाई बहाल करने की मांग करने लगे। स्थानीय निवासी नजीर अहमद, अमर सिंह, अंचल सिंह का कहना है कि वहा से लोगों को मोबाइल चार्ज करने के लिए बनी आना पड़ता है। फोन चार्ज ना होने के कारण समस्या का सामना करना पड़ता है। उन्होंने माग की कि बिजली सप्लाई सुचारू की जाए। बिजली विभाग के जेई कुलभूषण सिंह का कहना है कि बर्फबारी के कारण कुछ तार और खंभे क्षतिग्रस्त हुए है, जल्द ही बिजली सप्लाई बहाल कर दी जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.