केंद्रीय गृह राज्यमंत्री रेड्डी बोले अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर में सुधरी कानून व्यवस्था की स्थिति

रेड्डी ने कहा कि पांच अगस्त 2019 के बाद से जम्मू कश्मीर में हालात तेजी से बदले हैं। केंद्र ने यहां विकास और शांति बहाली को प्राथमिकता दी है। बीते दो सालों के दौरान हमने आतंकवाद और घुसपैठ पर अंकुश लगाया है।

Rahul SharmaMon, 14 Jun 2021 08:45 AM (IST)
कोरोना महामारी को हराने के बाद जम्मू कश्मीर में विकास को और गति दी जाएगी।

जम्मू, राज्य ब्यूरो: केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि न सिर्फ जम्मू कश्मीर, बल्कि बीते दो वर्ष पूरे देश में राष्ट्रीय सुरक्षा परिदृश्य में सुधार आया है। कानून व्यवस्था की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। नक्सली हों या आतंकी, सभी की हिंसक गतिविधियों में कमी आई है। सीमा पार से घुसपैठ में गिरावट है। आतंकी भर्ती पर अंकुश है। सीमा पर स्थिति शांत है। सुधरती कानून व्यवस्था के कारण ही आज देश में विकास कार्यों को गति मिल रही है। इससे कोरोना से उपजे हालात पर जल्द काबू पाने में भी मदद मिली है।

प्रदेश के एक दिवसीय दौरे पर रविवार को जम्मू पहुंचे केंद्रीय गृह राज्यमंंत्री ने मजीन में भगवान वेंकटेश्वर स्वामी मंदिर के भूमि पूजन में हिस्सा लिया। इसके अलावा उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की मौजूदगी में पुलिस, केंद्रीय अर्धसैनिकबल व खुफिया एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों संग बैठक में जम्मू कश्मीर के सुरक्षा परिदृश्य का जायजा लिया। भूमि पूजन के बाद पत्रकारों से बातचीत में रेड्डी ने जम्मू कश्मीर से संबंधित मुददों का जिक्र करते हुए कहा कि केंद्र सरकार इस समय स्थानीय लोगों की विकास की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए संकल्पबद्ध और केंद्रित है। कोरोना महामारी को हराने के बाद जम्मू कश्मीर में विकास को और गति दी जाएगी।

रेड्डी ने कहा कि पांच अगस्त, 2019 के बाद से जम्मू कश्मीर में हालात तेजी से बदले हैं। केंद्र ने यहां विकास और शांति बहाली को प्राथमिकता दी है। बीते दो सालों के दौरान हमने आतंकवाद और घुसपैठ पर अंकुश लगाया है। पूरे देश में ही कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार आया है। कोई बड़ा बम धमाका नहीं हुआ है। आप कोई एक विषय ले लीजिए, चाहे आतंकी हिंसा हो या घुसपैठ, नक्सलवाद हो या आतंकी हिंसा, अगर कुछ घटनाओं को छोड़ दिया जाए तो आतंकी हिंसा में कमी आई है।

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर के लोगों के साथ किए वादों के संदर्भ में उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने इस प्रदेश के लिए बहुत कुछ सोच रखा है।

आर्थिक-सामाजिक विकास की कई योजनाएं तैयार हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर ही 36 केंद्रीय मंत्रियों ने जम्मू कश्मीर का दौरा कर लोगों की राय जानने का प्रयास किया था। उनकी विकास के प्रति आकांक्षाओं को जानने और उसके आधार पर यहां विकास योजनाओं को लागू करने की रूपरेखा तैयार की गई। यह प्रक्रिया आगे बढ़ती, उससे पहले ही कोरोना महामारी ने पूरे देश को घेर लिया। इससे कई चीजें अधर में ही लटक गईं।

विकास लिए बड़ी राशि का प्रविधान कर रखा: जी किशन रेड्डी ने बताया कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख प्रदेश के विकास के लिए केंद्र सरकार ने एक बड़ी राशि का प्रविधान कर रखा है। कोरोना के कारण पैदा हुई दिक्कतों के चलते ही इन दोनों प्रदेशों के समन्वित, एकीकृत और समग्र विकास की योजना तय रणनीति के मुताबिक लागू नहीं हो पाई है, लेकिन ईश्वर की कृपा से कोरोना के खिलाफ जंग को जीत लिया जाएगा। उसके बाद जम्मू कश्मीर के लोगों की उम्मीदों के अनुरूप  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.