Jammu Kashmir: सरकारी विभागों से सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड में 3.5 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य

सशस्त्र सेना झंडा दिवस सात दिसंबर को मनाया जाएगा। ऐसे में गृहसचिव शालीन काबरा ने बैठक में सशस्त्र सेना दिवस को लेकर जारी तैयारियों की समीक्षा की। जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर राघव लंगर सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक ब्रिगेडियर गुरमीत सिंह शान के साथकई विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Vikas AbrolPublish:Sat, 04 Dec 2021 03:49 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 03:49 PM (IST)
Jammu Kashmir: सरकारी विभागों से सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड में 3.5 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य
Jammu Kashmir: सरकारी विभागों से सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड में 3.5 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य

जम्मू, राज्य ब्यूरो। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में सरकारी विभाग पूर्व सैनिकों के कल्याण की योजनाओं को तेजी देने के सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड में 3.5 करोड़ रूपये से अधिक का सहयोग देंगे। यह लक्ष्य जम्मू सचिवालय में गृह विभाग के सचिव शालीन काबरा की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में तय किया गया।

सशस्त्र सेना झंडा दिवस सात दिसंबर को मनाया जाएगा। ऐसे में गृहसचिव शालीन काबरा ने बैठक में सशस्त्र सेना दिवस को लेकर जारी तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर राघव लंगर, सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक ब्रिगेडियर गुरमीत सिंह शान के साथ सूचना विभाग, सामान्य प्रशासनिक विभाग, स्कूली शिक्षा, वित्त, पुलिस, शहरी विकास जैसे कई विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। वहीं कश्मीर के डिवीजनल कमिश्नर पीके पोले व अन्य कई वरिष्ठ अधिकारी वीडियो कांफ्रेंस से इस बैठक में शामिल हुए। सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस को लेकर की जा रही तैयारियों के साथ पूर्व सैनिकों और वीर नारियों के कल्याण से संबंधित विभाग की विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि ऐसे गतिविधियों को तेजी देने में समाज द्वारा दिए जाने वाले फंड की अहम भूमिका रहती है।ऐसे में शालीन काबरा ने जोर दिया कि विभाग सामाजिक जिम्मेवारी का निर्वाह करने के लिए सामने आएं। अधिकारी व कर्मचारी पूर्व सैनिकों के लिए दिल खोलकर सहयोग दें। उन्होंने कहा कि पुलिस, डिप्टी कमिश्नर, उद्योग, शिक्षा, निगमों के साथ इंजीनियरिंग विभागों के मुख्य अभियंता अधिक से अधिक फंड जुटाने में सहयोग दें। गृह सचिव ने जोर दिया कि विभागों की पूरी कोशिश रहनी चाहिए कि इस बार सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड में हमारा योगदान 3.5 करोड़ रूपये से अधिक होना चाहिए। इसी बीच सशस्त्र सेना झंडा दिवस की तैयारियों के बीच सैनिक कल्याण विभाग के निदेशक ब्रिगेडियर गुरमीत सिंह शान ने उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के साथ भी बैठक की।