Mata Vaishno Devi: वैष्णो देवी यात्रा में RT-PCR रिपोर्ट अनिवार्य, श्राइन बोर्ड ने लिया फैसला

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के साथ ही तीसरी लहर की आशंका से हर कोई चिंतित है तो दूसरी तरफ माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटड़ा में अचानक लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। गत शुक्रवार को कटड़ा में संक्रमण के 31 मामले सामने आए थे।

Vikas AbrolPublish:Sun, 05 Dec 2021 07:13 AM (IST) Updated:Sun, 05 Dec 2021 07:13 AM (IST)
Mata Vaishno Devi: वैष्णो देवी यात्रा में RT-PCR रिपोर्ट अनिवार्य, श्राइन बोर्ड ने लिया फैसला
Mata Vaishno Devi: वैष्णो देवी यात्रा में RT-PCR रिपोर्ट अनिवार्य, श्राइन बोर्ड ने लिया फैसला

कटड़ा, राकेश शर्मा। माता वैष्णो देवी यात्रा के लिए कटड़ा पहुंच रहे श्रद्धालुओं में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले देख चिंतित श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड प्रशासन भी हरकत में आया। बोर्ड ने श्रद्धालुओं के लिए अब 72 घंटे के भीतर आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट और कोविड-19 की दोनों वैक्सीन की डोज के प्रमाणपत्र को अनिवार्य कर दिया है। साथ ही बिना मास्क के पवित्र गुफा में श्रद्धालुओं को अनुमति नहीं होगी।

दैनिक जागरण के उठाए मुद्दे पर श्राइन बोर्ड हरकत में आया

दैनिक जागरण में मां के भक्तों में संक्रमण के लगातार मामले बढऩे का मुद्दे उठाने के बाद आनन-फानन में बोर्ड प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए कई अहम कदम उठाए हैं। वहीं शनिवार को लगातार चौथे दिन 61 संक्रमित सामने आए। चार दिन में संक्रमितों की संख्या 195 पहुंच गई है। स्वस्थ्य विभाग भी पूरी तरह से सतर्क हो गया है। होटल, धर्मशाला संचालकों के अलावा दुकानदारों के भी कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं।

कोरोना के नए वेरिएंट 'ओमिक्रोन के साथ ही तीसरी लहर की आशंका से हर कोई चिंतित है तो दूसरी तरफ माता वैष्णो देवी के आधार शिविर कटड़ा में अचानक लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। गत शुक्रवार को कटड़ा में संक्रमण के 31 मामले सामने आए थे तो वहीं शनिवार को यह आंकड़ा बढ़कर 61 तक जा पहुंचा। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग ने 3128 श्रद्धालुअें के कोरोना टेस्ट किए। ब्लाक मेडिकल आफिसर (बीएमओ) कटड़ा डॉ. गोपाल दत्त ने बताया कि कटड़ा में निजी कर्मचारियों के 50 फीसद टेस्ट किए जा चुके हैं और आगे भी लगातार जारी हैं। होटल, गेस्ट हाउस, धर्मशाला के अलावा दुकानों, रेहड़ी, फड़ी आदि पर कार्य करने वाले कर्मचारियों के भी टेस्ट निरंतर जारी हैं। होटल व धर्मशाल संचालकों को निर्देश दिए गए हैं कि अगर कोई श्रद्धालु बीमार है तो तुरंत स्वस्थ्य विभाग को सूचित करें।

बोर्ड की श्रद्धालुओं से अपील :

श्रद्धालुओं में कोरोना के बढ़ते मामले देख श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे कोरोना नियमों का कड़ाई से पालन करें ताकि वे खुद के साथ अन्य को संक्रमित होने से बचा सकें। बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार ने श्रद्धालुओं के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट जो 72 घंटे से पुरानी न हो के साथ कोविड-19 वैक्सीन का प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया है।

भवन मार्ग पर 24 घंटे मास्क पहनकर रखने व शारीरिक दूरी का ध्यान रखने की लगातार अनाउंसमेंट की जा रही है। मां वैष्णो देवी के प्रवेश द्वार दर्शनी ड्योढ़ी के साथ नए ताराकोट मार्ग के प्रवेश द्वार पर प्रत्येक श्रद्धालु की थर्मल स्केनिंग लगातार जारी है। महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों पर ऑटो सेंसर सैनिटाइजर लगाए गए हैं। भवन पर बिना मास्क के गुफा के भीतर प्रवेश की अनुमति किसी को नहीं है। रमेश कुमार ने कहा कि बोर्ड ने कोरोना की रोकथाम के उचित इंतजाम उठाए हैं ताकि यात्रा पूरी तरह से सुचारु रह सकें।