Road Accidents in Jammu: जम्मू जिला में नहीं थम रहे सड़क हादसे, रोजाना खून से लाल हो रही सड़कें

जिला जम्मू में सड़क हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे।

जिला जम्मू में सड़क हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे। बीते वर्षों की तरह वर्ष 2020 में भी सड़क दुर्घटनाओं में कोई खास कमी नहीं आई जिसके चलते सड़कों पर कीमती जानें गई। हादसों में सैकड़ों लोग घायल हो गए तो कईं जीवन भर के लिए दिव्यांग हो गए।

Vikas AbrolMon, 22 Feb 2021 11:52 AM (IST)

जम्मू, जागरण संवाददाता । जिला जम्मू में सड़क हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे। बीते वर्षों की तरह वर्ष 2020 में भी सड़क दुर्घटनाओं में कोई खास कमी नहीं आई, जिसके चलते सड़कों पर कीमती जानें गई। इन हादसों में सैकड़ों लोग घायल हो गए तो कईं जीवन भर के लिए दिव्यांग तक हो गए। इस हादसों में कई परिवारों के इकलौते चिराग तक बुझ गए हैं। कई ऐसे परिवार हैं, जिन्होंने दुर्घटनाओं के कारण परिवार के कई सदस्य खो दिए हैं। सड़क हादसों के सबसे अधिक कारण तेज गति से वाहन चलाना, रांग साईड पर वाहन चलाना, टूटी सड़के, ओवर लोडिंग मुख्य कारण है। इसके अलावा वाहन चलाते फोन पर बात करना, लाल बत्ती को जंप करना भी हादसों का कारण है। हालांकि बीते वर्ष कोरोना काॅल के चलते घोषित लॉकडाउन के चलते काफी समय से यातायात सड़कों से नदारद था, जिसके चलते पिछले वर्षों की तुलना में वर्ष 2020 में सड़क हादसों का आकंडा कम है। सरकारी स्तर पर सड़क हादसों को रोकने के लिए कई कमेटियों का गठन तो हुआ लेकिन उन कमेटियों की सिफारिशों पर अमल होता नहीं दिखा।

मात्र चालान करने तक ही सीमित पुलिस

सड़क दुर्घटनाओं को कम करने और सुरक्षित यातायात के लिए जिला पुलिस और ट्रैफिक पुलिस केवल चालान काटने तक ही समिति है। सड़क हादसों को रोकने के लिए वाहन चालकों को जागरूकत करना जरूरी है। जिला पुलिस जम्मू और ट्रैफिक पुलिस जम्मू मौजूदा समय में सुरक्षा याताायत माह मना रहे है, लेकिन यह कार्यक्रम मात्र औपचा

रिकता बन कर रह गया है।

यातायात नियमों का सख्ती से करवाया जा रहा पालन

एसएसपी ट्रैफिक शिव कुमार शर्मा ने बताया कि सड़क हादसों को रोकने के लिए ट्रैफिक पुलिस पूरी ताकत झोंक रही है। जिसका असर भी दिखाई दे रहा है। चालान काटने की संख्या में गिरावट आई है। वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए ट्रैफिक पुलिस पर्चें बांटने के अलावा स्कूटी बच्चों का भी सहयोग लिया जा रहा है।

जिला जम्मू में वर्ष 2020 में हुए सड़क हादसे 

सड़क हादसे     मौत      घायल

980              98       1117

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.