Jammu Kashmir Republic Day Parade 2021: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा- प्रदेश में अमन और भाईचारा कायम करना सरकार की पहली प्राथमिकता

अ‌र्द्ध-सैनिक बल, पुलिस के जवान, स्कूली बच्चे व एनसीसी कैडेट मार्च पास्ट में भाग लिया

उपराज्यपाल ने प्रदेश में हाल ही में बिना किसी हिंसा के हुए जिला विकास परिषद के सफलतापूर्वक चुनावों को एक बहुत बड़ी उपलब्धि करार दिया। उन्होंने कहा कि पिछले चुनावों के मुकाबले जिला विकास परिषद के चुनावों में रिकार्ड तोड़ मताधिकार का प्रयोग हुआ है।

Publish Date:Tue, 26 Jan 2021 07:42 AM (IST) Author: Vikas Abrol

जम्मू, जेएनएन। प्रदेश में मुख्य समारोह शरदकालीन राजधानी जम्मू के मौलाना आजाद स्टेडियम में जारी है। यहां उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने सुबह 10 बजे राष्ट्रीय ध्वज फहराया और फिर परेड की सलामी ली जबकि शेरे कश्मीर स्टेडियम में उपराज्यपाल के सलाहकार बसीर अहमद खान तिरंगा फहराया। सभी जिला मुख्यालयों में भी गणतंत्र दिवस समारोह हो रहे हैं।

मौलाना आजाद स्टेडियम में सुबह 9.45 बजे गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि एवं प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा पहुंचे। पूरा स्टेडियम वीवीआइपी मेहमानों से ही नहीं अपितु शहर के अाम नागरिकों से भी भरा हुआ नजर आया। उपराज्यपाल ने मौलाना आजाद स्टेडियम में सुबह 10 बजे तिरंगा फहराया। इसके उपरांत पुलिस के जवानों, आमर्ड पुलिस के जवानों और स्कूली बच्चों सहित एनसीसी कैडेटों ने मार्च पास्ट में भाग लेकर मुख्य अतिथि को सलामी दी। जम्मू-कश्मीर पुलिस के आमर्ड विंग के डेयर डेविल दस्ते के हैरतअंगेज कारनामों ने सबको आश्चर्यचकित कर दिया।

उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने सभी प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वर्ष 2020 जम्मू कश्मीर में अमूल क्रांति का वर्ष रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सियासी षडयंत्र और नापाक साजिशों को कभी भी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। जो लोग छद्म युद्ध के सहारे राजनीतिक उद्देश्य पूरा करने की कोशिश में जुटे हैं उनको मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अमन और भाईचारा कायम करना सरकार की पहली प्राथमिकता है।

प्रदेश में शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न हुए डीसीसी चुनावाें को एक बहुत बड़ी उपलब्धि करार दिया

उपराज्यपाल ने प्रदेश में हाल ही में बिना किसी हिंसा के हुए जिला विकास परिषद के सफलतापूर्वक चुनावों को एक बहुत बड़ी उपलब्धि करार दिया। उन्होंने कहा कि पिछले चुनावों के मुकाबले जिला विकास परिषद के चुनावों में रिकार्ड तोड़ मताधिकार का प्रयोग हुआ है। इसके लिए प्रदेश के सभी नागरिक बधाई के पात्र हैं। उन्होंने शांतिपूर्वक चुनाव करवाने के लिए केंद्रीय सुरक्षा बलों, सेना, पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को भी विशेष रूप से मुबारकबाद दी। उन्होंने कहा कि डीडीसी चुनाव परिषद से चुनकर आए प्रतिनिधियों को प्रशासन की ओर से भरपूर सहयोग मिलेगा जिससे वे विकास कार्यों को गति दे सकेंगे।

 

प्रदेश में पन बिजली परियोजनाओं में 52 हजार करोड़ रूपये का निवेश किया गया

इससे पहले गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर उपराज्यपाल ने प्रदेश के लोगों के नाम अपने संदेश में कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश में जो कदम उठाए गए वह सराहनीय रहे। काेरोना अभी भी खत्म नहीं हुआ है इसलिए अभी भी रोकथाम के तमाम साधनों को अपनाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि 28 हजार करोड़ रुपये की नई औद्योगिक योजना भी लाई गई है। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 15 वर्षों तक पर्यटन प्रोत्साहन योजना लागू रखी जाएगी। प्रदेश में पन बिजली परियोजनाओं में 52 हजार करोड़ रूपये का निवेश किया गया। जम्मू और श्रीनगर में जल्द मेट्रो रेल दाैड़ेगी।

गणतंत्र दिवस के दौरान किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने का मौका तलाश रहे आतंकियो के मंसूबाें को नाकाम बनाने के लिए आायोजनस्थल के आसपास सुरक्षाबल तैनात हैं। गतणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर सीआरपीएफ, आइटीबीपी, एसएसबी के जवानों ने शहर की सुरक्षा का जिम्मा संभाला है।

मौलाना आजाद स्टेडियम के बारे काफी तादाद में सुरक्षाबल तैनात हैं। समारोह देखने के लिए जाने वाले लोगों को सुरक्षा जांच के उपरांत ही आयोजन स्थल पर जाने दिया जाएगा। मौलाना आजाद स्टेडियम की मुख्य पवेलियन को रंग-बिरंगे गुब्बारों से सजाया गया है। पूरे स्टेडियम में सजावट देखते ही बनती है।

स्टेडियम के आसपास की ऊंची इमारतों पर शार्प शूटर तैनात  

मौलाना आजाद स्टेडियम में गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। स्टेडियम के आसपास की ऊंची इमारतों पर शार्प शूटरों को तैनात किया गया है।

जम्मू-कश्मीर रोड ट्रांसपोर्ट काॅरपोरेशन की बसों का इंतजाम किया

प्रशासन की ओर से मौलाना आजाद स्टेडियम में गणतंत्र दिवस समारोह देखने वालों के आने-जाने के लिए जम्मू-कश्मीर रोड ट्रांसपोर्ट काॅरपोरेशन की बसों का इंतजाम किया गया। सुबह शहर के विभिन्न रूट से आम नागिरकों को जेकेआरटीसी की इलेक्ट्रिक बसों में सवार होकर एमए स्टेडियम में पहुंचाया गया जबकि कार्यक्रम संपन्न होने के उपरांत उन्हें फिर इन्हीं बसों से गंतव्यों तक पहुंचाया जाएगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.