Tawi Illegal Mining: दिन में उजाले में भी तवी में होते अवैध खनन को नहीं देख पाती पुलिस

नड़ी गांव से आधा किलोमीटर पर ही पुलिस चौकी भी है, फिर भी पुलिस कुछ नहीं करती है।

सोमवार को भी नढ़ी गांव के पास निक्की तवी नदी से रेत-बजरी निकालकर ले जाते हुए करीब 50 ट्रैक्टर देखे गए लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। ऐसे में स्थानीय लोग पुलिस की खनन माफिया के साथ मिलीभगत का आरोप लगाने लगे।

Tue, 02 Mar 2021 07:11 AM (IST)

मीरां साहिब, जैंबल चौधरी:  तवी नदी से सरेआम दिन के उजाल में खनन माफिया अवैध रूप से रेत-बजरी निकालता है, लेकिन पुलिस को यह नजर नहीं आता है। हद तो यह है कि स्थानीय लोगों ने इस मसले पर कई बार प्रदर्शन भी किया, लेकिन तब भी नींद में डूबी पुलिस की आंख नहीं खुल रही है।

प्रशासन ने इस पर पाबंदी भी लगा रखी है, लेकिन खनन माफिया इससे बेपरवाह और पुलिस की आंख के नीचे से निक्की तवी नदी से अवैध रूप से खनन करवा रहा है। क्षेत्र के नड़ी ¨सबल कैंप एरिया के अलावा सतवारी थाने के अधीन आने वाले मंडाल फ्लाएं में खनन माफिया निक्की तवी नदी से दिन-रात रेत-बजरी निकलवाता है। स्थानीय लोग यह आरोप लगाने लगे हैं कि पुलिस और प्रशासन के उच्चाधिकारियों को इस मामले की पूरी जानकारी है, लेकिन खनन माफिया पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इसके चलते लोगों में प्रशासन के प्रति रोष है।

सोमवार को भी नढ़ी गांव के पास निक्की तवी नदी से रेत-बजरी निकालकर ले जाते हुए करीब 50 ट्रैक्टर देखे गए, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। ऐसे में स्थानीय लोग पुलिस की खनन माफिया के साथ मिलीभगत का आरोप लगाने लगे। उनका कहना था कि बिना पुलिस की मर्जी से इस तरह सरेआम कैसे कोई नदी से अवैध रूप से खनन सामग्री निकाल सकता है। उनका कहना है कि नड़ी गांव से आधा किलोमीटर पर ही पुलिस चौकी भी है, फिर भी पुलिस कुछ नहीं करती है।

बिना टैक्स चुकाए नदी से रेत-बजरी निकालकर खनन माफिया कमा रहा मुनाफा क्षेत्र के लोगों जोगराज, संजीव शर्मा, सुभाष दसगोतरा, जगदीश लाल आदि का कहना है कि प्रशासन ने तवी नदी से रेत बजरी निकालने पर रोक लगाया हुआ है, फिर भी यह काम हो रहा है। बिना पुलिस प्रशासन की मिलीभगत से ऐसा करना संभव नहीं।

लोगों का कहना है कि खनन माफिया नदी से बिना कोई टैक्स चुकाए खनन सामग्री निकालकर एक ट्राली 4000 रुपये में बेचता है। इसी तरह किशोर कुमार, रमेशलाल, सुरजीत ¨सह, अमृतपाल ¨सह आदि ने कहा कि वे कई बार इसको लेकर आवाज उठा चुके हैं। अब यदि प्रशासन खनन माफिया पर कार्रवाई नहीं करेगा तो वे फिर से सड़क पर उतरेंगे।

निक्की तवी के ¨सबल पार वाला इलाका जम्मू के अधीन आता है, जहां से अवैध खनन होता है। जो लोग उस इलाके से खनन सामग्री निकालकर नड़ी गांव से गुजरते हैं, उनके खिलाफ अवश्य कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा। -रामलाल शर्मा, एसडीएम आरएसपुरा

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.