जम्मू के साथ रोजगार, विकास के भेदभाव ने नाराज पैंथर्स पार्टी ने केंद्र सरकार का पुतला फूंका

जम्मू क्षेत्र के साथ रोजगार विकास में भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए पैंथर्स पार्टी ने प्रदर्शन कर भाजपा सरकार का पुतला फूंका।पैंथर्स पार्टी के चेयरमैन हर्षदेव सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने प्रेस क्लब जम्मू के बाहर मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

Vikas AbrolPublish:Tue, 22 Jun 2021 03:25 PM (IST) Updated:Tue, 22 Jun 2021 03:25 PM (IST)
जम्मू के साथ रोजगार, विकास के भेदभाव ने नाराज पैंथर्स पार्टी ने केंद्र सरकार का पुतला फूंका
जम्मू के साथ रोजगार, विकास के भेदभाव ने नाराज पैंथर्स पार्टी ने केंद्र सरकार का पुतला फूंका

जम्मू, राज्य ब्यूरो । जम्मू क्षेत्र के साथ रोजगार, विकास में भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए पैंथर्स पार्टी ने प्रदर्शन कर भाजपा सरकार का पुतला फूंका।

पैंथर्स पार्टी के चेयरमैन हर्षदेव सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने प्रेस क्लब जम्मू के बाहर मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कार्यकर्ताओं ने बैनर लहराते हुए मोदी सरकार जम्मू के प्रति नजरअंदाज करना बंद करो, गुपकारी भाजपा हाय हाय, जम्मू विरोधी भाजपा हाय हाय, अलगाववाद समर्थक भाजपा हाय हाय के नारे लगाए।

इस मौके पर हर्षदेव सिंह ने कहा कि जम्मू क्षेत्र को नजरअंदाज किए जाने का सिलसिला रुका नहीं है। जम्मू को कश्मीर की कालोनी समझना बंद किया जाना चाहिए। जम्मू को भी राजनीतिक प्रक्रिया में पूरा हिस्सा मिलना चाहिए और जम्मू की कीमत पर दूसरे क्षेत्र को खुश करने की कोशिश को कभी भी स्वीकार नहीं किया जाएगा। इसके गंभीर परिणाम होंगे।

जम्मू और कश्मीर क्षेत्र के साथ बराबर व्यवहार करना चाहिए

उन्होंने कहा कि जम्मू और कश्मीर क्षेत्र के साथ बराबर व्यवहार करना चाहिए। नौकरियों, विधानसभा की सीटों, विकास के लिए फंड जारी करने की प्रक्रिया, बिजली और स्वास्थ्य ढांचे व कल्याणकारी योजनाओं में दोनों क्षेत्रों को बराबर का हिस्सा मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने 24 जून को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। उम्मीद है कि इसमें जम्मू क्षेत्र के साथ इंसाफ की बात होगी।

जम्मू कश्मीर के युवाओं के लिए रोजगार का पैकेज दिए जाने की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना के बीच लोगों के रोजगार छिन गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के विकास की तरफ ध्यान दिया जाना चाहिए। पार्टी के वरिष्ठ नेता यशपाल कुंडल ने कहा कि अनुसूचित जाति के कर्मचारियों के साथ पदोन्नति मामले में इंसाफ होना चाहिए।प्रदर्शन करने वाले कार्यकर्ताओं में राजेश पडगोत्रा, गगन प्रताप सिंह, राजेश्वर, सुरेंद्र चौहान, महेंद्र सिंह, विक्रम सिंह, राजेश गोंधी, राकेश गुप्ता नरेश शर्मा, यशपाल शर्मा, वेद राज शर्मा, रणजीत सिंह व अन्य शामिल थे।