Outreach Campaign Jammu Kashmir : गडकरी, नकवी सहित आठ और केंद्रीय मंत्री आएंगे जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में अभी तक 58 मंत्रियों के नामों को अंतिम मुहर लगाई गई थी। जम्मू-कश्मीर में कुल 70 केंद्रीय मंत्रियों के आने की योजना है। अभी तक 58 मंत्रियों के दौरे तय किए गए थे। लेकिन शनिवार को आठ और मंत्रियों के नामों को तय किया गया।

Rahul SharmaSat, 25 Sep 2021 12:18 PM (IST)
शिक्षा राज्यमंत्री अन्नपुर्णा देवी अनतंनाग जिले में 21 और 22 अक्टूबर को आ रही हैं।

जम्मू, राज्य ब्यूरो : केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में जनसंपर्क अभियान के तहत आठ और केंद्रीय मंत्रियों के नामों पर मुहर लगाई है। इन मंत्रियों में नितिन गडकरी, मुख्तार अब्बास नकबी और गिरिराज किशोर शामिल हैं। यह सभी मंत्री सितंबर और अक्टूबर महीने में आएंगे। इसके साथ ही अभी तक जम्मू-कश्मीर में आने वाले मंत्रियों की संख्या 66 हो जाएगी।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितन गडकरी कश्मीर में 27 और 28 सितंबर को आ रहे हैं। वह यहां पर राष्ट्रीय राजमार्ग और रिंग रोड पर नींव पत्थर रखने के अलावा जोजिला मोड टनल का निरीक्षण भी करेंगे।

गडगरी बारामुला-गुलमर्ग राष्ट्रीय राजमार्ग का शिलान्यास करेंगे। इसके लिए 158 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं। वह अनतंनाग में डोनीपावा से आशाजीपारा राष्ट्रीय राजमार्ग का शिलान्यास भी करेंगे। यह राष्ट्रीय अनतंनाग में राजमार्ग-44 से इस मार्ग को जोड़ेगा। 8.5 किलोमीटर लंबे इस राजमार्ग के लिए 57 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं।

ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह दो और तीन अक्टूबर को कठुआ में आ रहे हैं। वहीं अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास मंत्री सात और आठ अक्टूबर को बडगाम में आ रहे हैं। शिक्षा राज्यमंत्री अन्नपुर्णा देवी अनतंनाग जिले में 21 और 22 अक्टूबर को आ रही हैं।

उपभोक्ता मामलों तथा खद्य और जनवितरण विभाग के मंत्री अश्विनी कुमार चौबे रामबन जिले में 21 से 23 अक्टूबर तक दौरा कर विकास कायों का जायजा लेंगे। जलशक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल रियासी जिले में 26 और 27 अक्टूबर को आ रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर में अभी तक 58 मंत्रियों के नामों को अंतिम मुहर लगाई गई थी। जम्मू-कश्मीर में कुल 70 केंद्रीय मंत्रियों के आने की योजना है। अभी तक 58 मंत्रियों के दौरे तय किए गए थे। लेकिन शनिवार को आठ और मंत्रियों के नामों को तय किया गया। जनसंपर्क अभियान के पहले चरण में 36 मंत्रियों ने जम्मू-कश्मीर का दौरा कर गृह मंत्रालय और प्रधानमंत्री कार्यालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.