Pulwama Encounter: पुलवामा मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के 3 आतंकी ढेर, सीआरपीएफ हमले में थे शामिल

पिछले दो दिनों के भीतर कश्मीर घाटी में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच यह तीसरी मुठभेड़ है।
Publish Date:Tue, 20 Oct 2020 02:29 PM (IST) Author: Rahul Sharma

श्रीनगर, जेएनएन। दक्षिण कश्मीर के जिला पुलवामा के हकरीपोरा इलाके में दोपहर से जारी मुठभेड़ समाप्त हो गया है। सुरक्षाबलों ने इलाके में छिपे तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया है। ये तीनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के थे। आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने तीनों आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि इन्हीं तीनों आतंकियों ने गत सोमवार को सीआरपीएफ के गश्ती दल पर हमला किया था। इस हमले में सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए थे।कश्मीर घाटी में दो दिनों के भीतर यह तीसरी मुठभेड़ है और सुरक्षाबलों ने अब तक चार आतंकी ढेर कर दिए हैं।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज दोपहर को सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि गत सोमवार सुबह पुलवामा के गांगू गांव में सीआरपीएफ के दल पर हमला करने वाले तीनों आतंकी हाकरीपोरा इलाके में छिपे हुए हैं। सूचना के आधार पर सेना की 50 आरआर, एसओजी और सीआरपीएफ की एक संयुक्त टीम क्षेत्र में पहुंची और घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। आतंकवादियों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई शुरू करने से पहले सेना ने छिपे हुए आतंकियों को आत्मसमर्पण करने का मौका दिया परंतु उन्होंने गोलीबारी जारी रखी। नतीजतन सुरक्षाबलों ने भी आतंकियों पर गोलीबारी शुरू कर दी।

मुठभेड़ के एक घंटे के भीतर ही सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया था। बाकी छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी जारी रखी। अगले एक घंटे के भीतर सुरक्षाबलों ने दूसरे आतंकी को भी मार गिराया। साथी आतंकियों के मारे जाने के बाद तीसरा आतंकी छिप गया और भागने की फिराक में जुट गया। सूचना पुख्ता थी, इसीलिए सुरक्षाबलों को पता था कि तीसरा आतंकी भी आसपास ही कहीं छिपा हुआ है। उसे ढूंढने के लिए सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया।

योजना नाकामयाब होते देख तीसरे आतंकी ने एक बार फिर सुरक्षाबलों पर गोलीबारी करना शुरू कर दिया। जवाबी कार्रवाई में वे भी मारा गया। सुरक्षाबलों ने तीनों आतंकियों के शवों को अपने क्बजे में ले लिया है। फिलहाल तीनों की पहचान जाहिर नहीं की गई है परंतु आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि ये तीनों लश्कर से जुड़े हुए थे। मुठभेड़ स्थल से हथियार व गोलाबारूद भी बरामद किया गया है। इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद सुरक्षाबल के जवान अभियान समाप्त कर वापस लौट गए।

आप को बता दें कि इससे पहले जिला शोपियां में सोमवार देर रात को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में भी दो आतंकी मारे गए थे। सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को गत शाम को ही ढेर कर दिया था जबकि दूसरा आतंकी आज सुबह मारा गया।उससे पहले पुलवामा के गांगू गांव में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक गश्ती दल पर हमला किया था। इसमें सीआरपीएफ के दो जवान घायल हो गए थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.