Mata Vaishno Devi: पवित्र नवरात्रों में स्वर्ग जैसा नजारा होगा मां के भवन का, बनाये जा रहे विशाल स्वागत द्वार

भारत के साथ ही श्रीलंका, ऑस्ट्रिया, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, इंग्लैंड आदि से विशेष फल फूल मंगवाए जा रहे हैं।

पवित्र चैत्र नवरात्रों में मां वैष्णो देवी भवन के सरस्वती भवन में विशाल से चंडी महायज्ञ का आयोजन होगा। वहीं पवित्र चैत्र नवरात्रों के आगमन को लेकर मां वैष्णो देवी भवन प्रांगण के साथ ही सभी मार्गों पर साफ-सफाई का कार्य शुरू हो गया है।

Rahul SharmaFri, 09 Apr 2021 01:26 PM (IST)

कटड़ा, राकेश शर्मा। आगामी 13 अप्रैल से शुरू हो रहे पवित्र चैत्र नवरात्रों में विश्व प्रसिद्ध स्थल मां वैष्णो देवी का भवन प्रांगण स्वर्ग जैसा नजर आएगा। जिसको लेकर मां वैष्णो देवी भवन प्रांगण तथा अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक स्थानों पर भव्य सजावट शुरू हो गई है।

पवित्र नवरात्रों में एक और जहां देशभर से आने वाले हजारों श्रद्धालुओं को वैष्णो देवी भवन के साथ ही भवन मार्ग पर श्राइन बोर्ड द्वारा व्रत संबंधी फलाहार के विशेष प्रबंध किए गए हैं। तो वहीं श्रद्धालुओं को सभी तरह की ऑनलाइन बुकिंग के साथ ही तत्काल बुकिंग भी प्राप्त होंगी। पवित्र चैत्र नवरात्रों में मां वैष्णो देवी भवन के सरस्वती भवन में विशाल से चंडी महायज्ञ का आयोजन होगा। वहीं पवित्र चैत्र नवरात्रों के आगमन को लेकर मां वैष्णो देवी भवन प्रांगण के साथ ही सभी मार्गों पर साफ-सफाई का कार्य शुरू हो गया है। मंदिरों की सजावट भी शुरू हो गई है।

मां वैष्णो देवी भवन की भव्य सजावट शुरू: विश्व प्रसिद्ध तीर्थ स्थल मां वैष्णो देवी भवन के साथ ही भवन प्रांगण तथा महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों की पवित्र नवरात्रों के आगमन को लेकर सजावट शुरू हो गई है। इनमें मां वैष्णो देवी भवन के साथ ही अर्धकंवारी मंदिर परिसर, भैरव घाटी मंदिर आदि प्रमुख है। भव्य सजावट देसी-विदेशी फल फूलों से करने के साथ ही विशाल स्वागत द्वार तथा पंडाल आदि भवन प्रांगण में बनाए जा रहे हैं। देश के दूसरे राज्यों से करीब 100 कारीगर इस काम में जुटे हुए हैं। सजावट के लिए भारत के साथ ही श्रीलंका, ऑस्ट्रिया, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, इंग्लैंड आदि से विशेष फल फूल मंगवाए जा रहे हैं।

विशाल स्वागत द्वार के साथ ही भव्य पंडाल भी बनाने का कार्य चल रहा है। इसके साथ ही मां वैष्णो देवी भवन के सभी मार्गों की रंग-बिरंगी लाइटों से सजावट जारी है। इसी तरह अर्द्धकुंवारी मंदिर परिसर तथा भैरव घाटी आदि में भी स्वागत द्वार बन रहे हैं। मां वैष्णो देवी की पवित्र तथा प्राचीन स्वर्ण युक्त गुफा प्रांगण के साथ ही कृत्रिम गुफाओं तथा पवित्र प्रांगण आदि की भी विदेशी फल-फूलों के साथ भव्य सजावट, विशाल स्वागत द्वार तथा पंडाल बनाने का कार्य शुरू हो गया है। पवित्र नवरात्रों में मां वैष्णो देवी की अालौकिक पवित्र पिंडियों की भव्य सजावट सुबह शाम निरंतर की जाएगी।

भवन तथा मार्गों पर साफ सफाई शुरू: मां वैष्णो देवी भवन के साथ ही सभी मार्गों पर साफ-सफाई के साथ ही रंगाई पुताई का कार्य जोरोंशोरों से जारी है। श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा सफाई कर्मचारियों की विशेष टीमों का गठन किया गया है जो लगातार अभियान में जुटी हुई हैं।

भवन पर होगा विशाल शतचंडी महायज्ञ: पवित्र नवरात्रों को लेकर भवन प्रांगण में सरस्वती भवन में श्राइन बोर्ड द्वारा विशाल शतचंडी महायज्ञ का आयोजन किया जाएगा। यह शत चंडी महायज्ञ नवरात्रों में शुरू होगा। इसमें करीब 31 प्रकांड पंडित यज्ञ में पूजा-अर्चना चौबीसों घंटे करेंगे। शतचंडी महायज्ञ में देशभर से आने वाले श्रद्धालु भाग ले सकें इसके लिए श्राइन बोर्ड द्वारा विशेष प्रबंध किए जा रहे हैं।

भवन तथा मार्ग पर श्रद्धालुओं को मिलेगा व्रत संबंधी फलाहार: पवित्र चैत्र नवरात्रों में मां वैष्णो देवी के दर्शनों को आने वाले हजारों श्रद्धालुओं को व्रत संबंधी फलाहार को लेकर किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े जिसको लेकर श्राइन बोर्ड द्वारा विशेष प्रबंध किए जा रहे हैं। श्राइन बोर्ड द्वारा भवन के साथ ही मार्ग पर स्थापित भोजनालयों में श्रद्धालुओं को व्रत संबंधी फलाहार नवरात्रों में 24 घंटे उपलब्ध होगा।

सभी तरह की सुविधाएं तत्काल भी उपलब्ध होंगी: पवित्र चैत्र नवरात्रों को लेकर देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं को हालांकि ऑनलाइन अग्रिम बुकिंग तो उपलब्ध होगी ही परंतु साथ ही आधार शिविर कटड़ा पहुंचने वाले इच्छुक श्रद्धालुओं को तत्काल बुकिंग भी उपलब्ध होगी। विशेषकर हेलीकॉप्टर सेवा, बैटरी कार सेवा के साथ ही मां वैष्णो देवी भवन पर सुबह व शाम होने वाली दिव्य आरती में शामिल होने के साथ ही कटड़ा तथा भवन पर रहने को लेकर भी तत्काल बुकिंग श्रद्धालुओं को उपलब्ध होगी।

कोरोना की रोकथाम के लिए हैं सभी तरह के इंतजाम: आधार शिविर कटड़ा से लेकर भवन तक कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। श्राइन बोर्ड के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीमें सतर्क हैं। स्वास्थ्य विभाग ने जहां आधार शिविर कटड़ा में श्रद्धालुओं की जांच के लिए रेलवे स्टेशन के साथ ही कटड़ा हेलीपैड, दर्शनी ड्योडी तथा नए ताराकोट मार्ग के प्रवेश द्वार पर विशेष कोविड-19 टेस्ट सेंटर बनाए हैं। वही मां वैष्णो देवी भवन के साथ ही सभी मार्गों पर श्राइन बोर्ड द्वारा महत्वपूर्ण स्थानों पर ऑटो सेंसर सैनिटाइजर स्थापित करने के साथ ही थर्मल स्कैनर से श्रद्धालुओं की निरंतर जांच की जा रही है।

श्रद्धालुओं को मिलेंगी सभी तरह की सुविधाएं: रमेश कुमार

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के सीइओ रमेश कुमार ने बताया कहा कि यूं तो श्रद्धालुओं को वर्तमान में सभी तरह की सुविधाएं निरंतर प्राप्त हो रही हैं। वहीं आगामी पवित्र चैत्र नवरात्रों में मां वैष्णो देवी के दर्शनों को आने वाले श्रद्धालुओं को सभी तरह की ऑनलाइन सुविधाएं तो प्राप्त होगी ही साथ ही इसके तत्काल सुविधाएं भी श्राइन बोर्ड द्वारा उपलब्ध करवाई जाएंगी। ताकि श्रद्धालुओं की मां वैष्णो देवी यात्रा निरंतर सुखमय बनी रहे। श्रद्धालु निरंतर मां वैष्णो देवी के अालौकिक दर्शन करते रहें। मां का भवन पूरी तरह से सुरक्षित है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.