Kashmir: युवाओं को आतंकी संगठन में शामिल करने वाले TRF के 2 OGWs बांडीपोरा से गिरफ्तार

इस नेटवर्क से जुड़े और लोगों की गिरफ्तारी की भी बात कही जा रही है।

Militancy in Kashmir प्राथमिक जांच में इन दोनों ओवरग्राउंड वर्करों ने यह माना कि वे स्थानीय युवाओं को टीआरएफ में शामिल होने के लिए उकसाते थे। यही नहीं वह बांडीपोर में आने वाले आतंकियों के ठहरने उनके खाने पीने की व्यवस्था भी करते थे।

Rahul SharmaWed, 21 Apr 2021 12:24 PM (IST)

श्रीनगर, जेएनएन। उत्तरी कश्मीर के जिला बांडीपोर में युवाओं को बरगलाकर उन्हें आतंकी संगठनों में शामिल करने का काम कर रहे द रजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) के दो ओवर ग्राउंड वर्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि ये दोनों पिछले काफी समय से क्षेत्र में सक्रिय थे। क्षेत्र के युवाओं को कथित जिहाद का पाठ पढ़ाकर उन्हें आतंकी सगठनों में शामिल करने करने वाले इन दोनों ओजीडब्ल्यू की पुलिस को काफी समय से तलाश थी।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज बुधवार सुबह उन्हें विश्वसनीय सूत्रों से यह सूचना मिली कि ये दोनों ओवरग्राउंड वर्कर बांडीपोरा के अरागाम इलाके में छिपे हुए हैं। पुलिस की एसओजी, सेना की 14 आरआर और सीआरपीएफ की 3 बटालियन की संयुक्त टीम इलाके में पहुंची और उन्होंने दोनों की तलाश शुरू कर दी। इसी अभियान के दौरान उन्हाेंने एक मकान में छिपे दोनों ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार कर लिया। इनकी पहचान मुश्ताक अहमद पारे पुत्र बशीर अहमद पारे निवासी गुंडपोरा रामपुरा, सज्जाद अहमद सोफी पुत्र गुलाम मोहम्मद सोफी निवासी सोफीगुंड त्राल के रूप में हुई है।

प्राथमिक जांच में इन दोनों ओवरग्राउंड वर्करों ने यह माना कि वे स्थानीय युवाओं को टीआरएफ में शामिल होने के लिए उकसाते थे। यही नहीं वह बांडीपोर में आने वाले आतंकियों के ठहरने, उनके खाने पीने की व्यवस्था भी करते थे। जरूरत पड़ने पर उन तक हथियार भी पहुंचाते थे। यही नहीं क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी होने पर वह आतंकियों को सुरक्षित वहां से निकालने का काम भी करते आ रहे थे।

पुलिस ने बताया कि तलाशी के दौरान उनके पास से टीआरएफ से संबंधित कई आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। दोनों के खिलाफ पुलिस स्टेशन अरागाम में मामला भी दर्ज कर लिया गया है। पूछताछ के आधार पर इस नेटवर्क से जुड़े और लोगों की गिरफ्तारी की भी बात कही जा रही है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.