Jammu: अप्रैल तक सीवरेज से जुड़ जाएगा पुराना शहर, 12 हजार में से 8500 कनेक्शन दिए गए

अप्रैल तक शेष घरों को भी इससे जोड़ दिया जाएगा।

Jammu Sewerage Project करीब 32 किलोमीटर ट्रंक सीवरेज डाली गई है। 90.740 किलोमीटर लेटरल तथा 30400 हाउस कनेक्शन दिए जाने हैं। करीब 130.75 करोड़ रुपये की लागत यह प्रोजेक्ट है। पहले चरण में करीब 12500 सीवरेज कनेक्शन का प्रोजेक्ट है।

Rahul SharmaFri, 26 Feb 2021 11:52 AM (IST)

जम्मू, अंचल सिंह: जम्मू पश्चिम के बाद अब जम्मू पूर्व सीवरेज से जुड़ने जा रहा है। अप्रैल माह तक जम्मू पूर्व के सभी घरों को सीवरेज से जोड़ने का काम पूरा कर लिया जाएगा। फिर घरों के शौचालयों की गंदगी नालों से होते हुए सूर्यपुत्री तवी नदी में नहीं जाएगी।

जम्मू पूर्व में सीवरेज डालने का काम कर रही नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कंपनी (एनबीसीसी) ने दावा किया है कि अप्रैल तक पुराने शहर के सभी घरों को सीवरेज से जोड़ दिया जाएगा। मुख्यता: शौचालयों को सीवरेज से जोड़ा जाना है। अलबत्ता रसोई के कनेक्शनों को भी सीवरेज के साथ जोड़ा जा रहा है।

फिलहाल एनबीसीसी जम्मू पश्चिम में करीब 12 हजार सीवरेज कनेक्शन का प्रोजेक्ट लेकर चल रही है। अप्रैल तक पहले चरण के इस काम को पूरा कर लिया जाएगा। एजेंसी का दावा है कि अभी तक करीब 8500 कनेक्शन दे दिए गए हैं। अप्रैल तक शेष घरों को भी इससे जोड़ दिया जाएगा।

कॉरपोरेटर नरोत्तम शर्मा का कहना है कि उन्होंने पीरखोह व आसपास के क्षेत्रों में सीवरेज में आ रही अड़चनों को दूर करवा दिया है। इसके अलावा शहर के अन्य हिस्सों में काम में तेजी लाने के लिए लोगों से सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिवरात्रि से पहले पीरखोह रोड की मरम्मत का कार्य भी पूरा होगा और फिर सीवरेज के कनेक्शन देने की कवायद तेज होगी। उन्होंने कहा कि एनबीसीसी द्वारा सीवरेज का काम अप्रैल तक पूरा करने का भरोसा दिलाया गया है।

शहर के बीसी रोड, ज्यूल चौक से पीरखोह तक सीवरेज का काम एनबीसीसी के अधीन है। इसके लिए भगवती नगर में एनबीसीसी ने 27 एमएलडी का सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तैयार किया है। करीब 32 किलोमीटर ट्रंक सीवरेज डाली गई है। 90.740 किलोमीटर लेटरल तथा 30400 हाउस कनेक्शन दिए जाने हैं। करीब 130.75 करोड़ रुपये की लागत यह प्रोजेक्ट है। पहले चरण में करीब 12500 सीवरेज कनेक्शन का प्रोजेक्ट है। पहले चरण में 64 हजार के करीब लेटरल लाइन बिछाई जानी है जिसमें से 60 हजार किलोमीटर के करीब लेटरल लाइन बिछाई जा चुकी है। वहीं 8500 के करीब कनेक्शन भी दिए जा चुके हैं।

‘पुराने शहर में फिलहाल करीब 12 हजार कनेक्शन दिए जाने हैं। इसका काम अप्रैल माह तक पूरा कर लिया जाएगा। सीवरेज के शुरू होने से शौचालयों की गंदगी अब तवी नदी में नहीं जाएगी। भगवती नगर में एसटीपी में इसका ट्रीटमेंट होगा। उसके बाद यह पानी तवी में छोड़ा जाएगा। काम युद्धस्तर पर जारी है। लोगों का सहयोग लेते हुए अप्रैल तक हर घर को सीवरेज से जोड़ देंगे। ’ -  आदित्य पालीवाल, जनरल मैनेजर, एनबीसीसी, जम्मू 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.