DDC Chairman: भाजपा में महिला नेताओं की नई कतार तैयार, DDC चुनाव में जीतने के बाद हुई सक्रिय

मोदी सरकार ने महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत सीटें आरक्षित कर उन्हें आगे लाया है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रविन्द्र रैना भी मानते हुए चुनाव के नतीजे आने के बाद भाजपा में महिला नेताओं की एक नई कतार तैयार है। उनका कहना है कि जिला विकास परिषद चुनाव में भाजपा में महिलाएं मजबूत बनकर सामने आई हैं।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 01:24 PM (IST) Author: Rahul Sharma

जम्मू, राज्य ब्यूरो: जम्मू कश्मीर में पहली बार हुए जिला विकास परिषद चुनाव में प्रदेश भाजपा में महिला नेताओं की एक नई कतार तैयार हो गई है। जिला विकास परिषदों में भाजपा की 25 विजयी महिला उम्मीदवार इस समय अपने अपने इलाकों में लोगों के बीच जाकर उनके मसलों को हल करवाने के प्रयास कर रही हैं।

ऐसा पार्टी के दिशानिर्देश पर किया जा रहा है। इन महिला उम्मीदवारों में से कुछ को जिला विकास परिषद चेयरमैन बनने का मौका भी मिलेगा। कुछ महिला उम्मीदवार खुद को लोगों को नेतृत्व करने में बेहतर करार देकर  कोशिशें भी कर रही हैं कि पार्टी उन्हें चेयरपर्सन बनाने के लिए एक मौका दे। चेयरपर्सन चुनाव की अधिसूचना जल्द जारी होने वाली है। इसमें यह स्पष्ट हो जाएगा कि प्रदेश के दोनों संभागों में महिलाओं के लिए आरक्षित किए जाने वाले 3-3 जिले काैन से हैं। इसके बाद ही पार्टी में महिलाओं में जोर आजमाइश शुरू होगी।

प्रदेश भाजपा जिला विकास परिषद चुनाव में 75 सीटें जीतकर सबसे मजबूत राजनीतिक पार्टी बनकर सामने आई हैं। जीत हासिल करने वाले पार्टी उम्मीदवारों में 25 महिलाएं शामिल हैं। इनमें से एक कश्मीर व 24 जम्मू संभाग से हैं। इस समय विजयी महिला उम्मीदवार जोरशोर से लोगों के बीच जाकर उनके मसलों को हल करने की दिशा में कार्रवाई कर रही है। 

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रविन्द्र रैना भी मानते हुए चुनाव के नतीजे आने के बाद भाजपा में महिला नेताओं की एक नई कतार तैयार है। उनका कहना है कि जिला विकास परिषद चुनाव में भाजपा में महिलाएं मजबूत बनकर सामने आई हैं। उनका कहना है कि तेज तरार इन महिला नेताओं ने जीत हासिल करने के साथ ही ग्रामीणों के मसलों को हल करने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है।

उनके कहना है कि पार्टी चेयरपर्सन के चुनाव में इन महिआओं को सशक्त बनाने की पूरी कोशिश करेगा। उनका कहना है कि जिला विकास परिषद चुनाव में मोदी सरकार ने महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत सीटें आरक्षित कर उन्हें आगे लाया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.