Jammu Kashmir: नए साल के पहले दो सप्ताह में तीन गोलीकांड से दहशत, गोलियों की गूंज से दहशत में शहरवासी

पुलिस के विरुद्ध रोष प्रकट करते लोगों ने घंटों जानीपुर पुलिस थाने का घेराव किया था।

पुलिस अभी तक आरोपित को दबोच नहीं पाई है। ना ही पुलिस हमला में प्रयुक्त हथियार को पुलिस बरामद कर पाई है। पुलिस द्वारा आरोपित की गिरफ्तारी ना होने से स्थानीय लोगों में रोष है। लोगों ने पुलिस के विरुद्ध प्रदर्शन किया था।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 12:07 PM (IST) Author: Rahul Sharma

जम्मू, जागरण संवाददाता: शहर में अपराधि सक्रिय हो गए है। ऐसा लग रहा है कि अपराधियों को पुलिस का खौफ ना रहने के कारण इस वर्ष के पहले दो सप्ताह के भीतर गोलीबारी की तीन बढ़ी घटनाएं हो रही है। शहरवासियों में गोलियों की गूंज से दहशत का माहौल व्याप्त है।

आठ जनवरी को शहर के अति व्यस्त कासिम नगर चौक में गोलीबारी की वारदात पेश आई थी। लोगों ने पहले इस गोलीकांड को आतंकी वारदात समझा लिया था। इसे भाजपा नेता पर हुए आतंकी हमले से जोड़ा गया था। लेकिन बाद में एक व्यक्ति ने दावा किया था कि पैसों के लेने के चलते उस पर जानलेवा हमला हुआ है। करीब एक सप्ताह के इंतजार के बाद पुलिस ने इस गोलीकांड में शामिल आरोपितों को पुलिस ने दबोचने का दावा किया था। इस गोलीकांड के बाद से कासिम नगर में लोगों में अभी भी खौफ है।

इस घटना के अगले ही दिन शहर के बाहरी क्षेत्र मीरा साहिब में गोलीकांड पेश आया था। करीब एक सप्ताह पूर्व हुए इस गोलीकांड में पूर्व सरपंच गंभीर रूप से घायल हो गया था। यह हमला पुरानी रंजिश के चलतेे हुआ था। वारदात के एक सप्ताह से अधिक का समय हो गया है लेकिन पुलिस अभी तक आरोपित को दबोच नहीं पाई है। ना ही पुलिस हमला में प्रयुक्त हथियार को पुलिस बरामद कर पाई है। पुलिस द्वारा आरोपित की गिरफ्तारी ना होने से स्थानीय लोगों में रोष है। लोगों ने पुलिस के विरुद्ध प्रदर्शन किया था।

बीते शनिवार को शहर के व्यस्त पलौड़ा इलाके में संपत्ति विवाद के चलते दो ने एक युवक पर पांच राउंड गोली चला दी थी। इस वारदात में युवक बाल बाल बच गया था। लेकिन उसकी बाजू में एक गोली लग गई थी। इस वारदात के बाद भी पुलिस के विरुद्ध रोष प्रकट करते लोगों ने घंटों जानीपुर पुलिस थाने का घेराव किया था। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.