जम्मू-कश्मीर सरपंच-पंच एसोसिएशन ने बढ़ाए मदद के लिए हाथ, मृतक सरपंच के परिजनों को एक-एक माह का वेतन देंगे

सरकार जिस तरह से श्रीनगर में किसी आतंकी हमले में शहीद होने वाले सरपंच पंच तो 25 लाख रुपये देती है उसी तरह बिजली का करंट से मरे सरपंच के परिजनों को देने की घोषणा करें जिसकी वजह से उनके परिवार अपने आप को अनाथ में महसूस नही करें।

Vikas AbrolSat, 18 Sep 2021 07:43 PM (IST)
सभी पंच सरपंच जो हैं वह मृतक सरपंच रणजीत राणा के परिजनों को अपने एक महीने का वेतन देंगे।

बिश्नाह, संवाद सहयोगी । अरनिया क्षेत्र की पंचायत चक जकतू के सरपंच जिनकी शुक्रवार को बिजली का करंट लगने से मौत हो गई थी, के परिजनों से जम्मू-कश्मीर सरपंच-पंच एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने शोक जताया है।

मृतक सरपंच रणजीत राणा के परिजनों को अपने एक महीने का वेतन देंगे

जम्मू-कश्मीर पंच सरपंच एसोसिएशन के प्रधान अनिल शर्मा, बीडीसी सदस्य सुरजीत कुमार, वाइस प्रेसिडेंट जितेंद्र सिंह ने बिश्नाह में एक पत्रकार वार्ता में कहा कि वे मृतक सरपंच रंजीत राणा के परिजनों को जम्मू-कश्मीर पंच सरपंच एसोसिएशन के सभी पंच सरपंच जो हैं वह मृतक सरपंच रणजीत राणा के परिजनों को अपने एक महीने का वेतन देंगे।

इसके साथ साथियों ने कहा है कि पंच-सरपंच एसोसिएशन तो अपनी तरफ से अपने एक माह का वेतन मृतक सरपंच के परिजनों को देगी। वहीं सरकार जिस तरह से श्रीनगर में किसी आतंकी हमले में शहीद होने वाले सरपंच पंच तो 25 लाख रुपये देती है उसी तरह बिजली का करंट से मरे सरपंच के परिजनों को देने की घोषणा करें जिसकी वजह से उनके परिवार अपने आप को अनाथ में महसूस नही करें।

पंच सरपंच एसोसिएशन डीसी जम्मू व डिवकाम जम्मू से भी बैठक कर कुछ मुआवजे की मांग करेगी

वहीं पंच सरपंच एसोसिएशन के उपप्रधान जितेंद्र सिंह ने कहा कि यह दुखद है कि जो सरपंच की मौत हुई है उससे एक पंचायत अनाथ हुई है। सरपंच काफी गरीब परिवार से थे और उस परिवार का पालन पोषण उन बच्चों का पालन पोषण करने के लिए सरकार कोई बड़ी घोषणा करें उसके लिए पंच सरपंच एसोसिएशन डीसी जम्मू व डिवकाम जम्मू से भी बैठक कर कुछ मुआवजे की मांग करेगी। उन्होंने कहा कि हम बिजली विभाग से भी बात कर रहे हैं कि आपकी ही लापरवाही से अभी तक कई लोगों की जान चली जाती है जिसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ता है इसलिए मृतक सरपंच रंजीत राणा केपरिवार पर ध्यान दें नहीं तो फिर हम कोई कड़ा कदम उठाने को मजबूर हो जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.