Corona Vaccine in Jammu Kashmir: तेज हो रहे टीकाकरण अभियान में वैक्सीन उपलब्ध करवाने की चुनौती

लोगों में जागरूकता आई है और अब बड़ी संख्या में लोग टीके लगवाने आ रहे हैं।

वहीं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के एक उच्चाधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में पिछले तीन दिनों में दो लाख के करीब लोगों का टीकाकरण हुआ है। अभी 45 साल से अधिक उम्र के करीब 34 लाख लोगों को टीके लगवाने का लक्ष्य रखा गया है।

Rahul SharmaSun, 11 Apr 2021 11:50 AM (IST)

जम्मू, रोहित जंडियाल:देश के अन्य भागों की तरह ही रविवार से टीकाकरण महोत्सव शुरू होने की तैयारी चल रही है। लेकिन इसमें एक सवाल कोरोना वैक्सीन की उपलब्धता भी है। लगातार बढ़ रहे टीकाकरण अभियान के कारण अब वैक्सीन भी कम पड़ने लगी है। इसका असर जम्मू-कश्मीर में भी पड़ सकता है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अगर स्वास्थ्यएवं परिवार कल्याण मंत्रालय से वैक्सीन नियमित रूप से आती रही तो कोई भी असर नहीं पड़ेगा। हालांकि अधिकारियों के माथे पर चिंता की लकीर भी देखने को मिल रही है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अभी तक जम्मू-कश्मीर में करीब 19.73 लाख डोज आ चुकी हैं। सभी डोज स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से आ रही है आैर यहां पर कोविशील्ड वैक्सीन की सप्लाई हो रही है। इस डोज में से करीब 9.91 लाख डोज सेना ओर अन्य सुरक्षाबलों को दी गई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के पास करीब 13.82 लाख डोज ही शेष बच गई। मगर इसमें से भी अब तक 13 लाख के करीब लोगों का टीकाकरण हो चुका है।

अभी विभाग के पास नब्बे से एक लाख के बीच ही डोज बची हुई हैं। हालांकि इसकी जानकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को भी है। हर दिन उपलब्ध डोज और टीकाकरण के बारे में केंद्र सरकार काे भी इसकी जानकारी दी जाती है। जम्मू-कश्मीर में टीकाकरण अभियान को देख रहे डा. शाहिद का कहना है कि वैक्सीन की फिलहाल कोई कमी नहीं है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से लगातार वैक्सीन आ रही है। उनका कहना है कि लोगों में जागरूकता आई है और अब बड़ी संख्या में लोग टीके लगवाने आ रहे हैं। सभी का टीकाकरण हो रहा है।

वहीं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के एक उच्चाधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में पिछले तीन दिनों में दो लाख के करीब लोगों का टीकाकरण हुआ है। अभी 45 साल से अधिक उम्र के करीब 34 लाख लोगों को टीके लगवाने का लक्ष्य रखा गया है। अगर सभी काे वैक्सीन के दोनों टीके लगवाने हैं तो 70 लाख से अधिक डोज की जरूरत पड़ेगी। सभी का बिना किसी रूकाबट के तभी टीकाकरण होगा जब नियमित रूप से वैक्सीन आएगी। अभी तक तो सब कुछ सही चल रहा है लेकिन अब मांग बढ़ी है और इस समय वैक्सीन कम है।

वहीं अब स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग अब टीकाकरण अभियान को रविवार से और अधिक तेजी देने जा रहा है। विभाग का प्रयास है कि हर दिन एक लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण करने का लख्य रखा गया है। अभी कुछ दिनों से औसतन साठ से अस्सी हजार लोगों का टीकाकरण हो रहा है।

अभी तक जिलावार टीकाकरण की स्थिति

जिला  स्वास्थ्य कर्मी   फ्रंटलाइन वर्कर   45 साल से अधिक उम्र के लोग जम्मू  29315    64,676   1,52,729 ऊधमपुर  6559 12,989   41,649 राजौरी 8054  14,460   29,374 कठुआ 7151   9478   47,797 पुंछ   5214   10,195   24,236 रामबन 2969    7400   16,239 डोडा 4671   11,688   26,483 किश्तवाड़ 2249   11,666   8273 रियासी 4934    9632    16,493 सांबा 4502   14,410   30,239 अनंतनाग 7843   22,789   43,250 कुलगाम 5334,   7360   22316 शोपियां 2,136,   7,117   17,703 पुलवामा 4471   20,091   26,619 श्रीनगर 10,495   55,929    19,442 बडगाम 6981   26,094    53,576 बारामुला 8795   29,943    94,267 कुपवाड़ा 6851   18075    16,854 बांडीपोरा 2953   9352    15,102 गांदरबल 3181    7103    25,597

कुल स्वास्थ्य कर्मी: 1,17,392

कुल फ्रंटलाइन वर्कर: 30,3862

45 साल से अधिक के कुल लोग: 34,34,764

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.