Jammu Kashmir: ईद पर नियंत्रण रेखा पर मिठाई का हुआ आदान प्रदान, भारत-पाकिस्तानी सेना ने दी एक दूसरे को मुबारकबाद

सैन्य अधिकारियों सहित जवानों ने एक दूसरे सैन्य अधिकारियों के बीच मिठाईयों का आदान-प्रदान कर ईद की शुभकामनाएं दी।

नियंत्रण रेखा पर जहां आए दिन गोलियां और मोर्टार का आदान-प्रदान होता था। वहीं युद्ध विराम समझौते के बाद नियंत्रण रेखा पर ईद के अवसर पर गोलियों के बदले मिठाइयों का आदान-प्रदान किया गया। भारतीय सेना और पाकिस्तान सेना के बीच नियंत्रण पर मिठाई भेंट कर ईद की शुभकामनाएं दी।

Vikas AbrolThu, 13 May 2021 05:11 PM (IST)

जम्मू, जेएनएन। एलओसी पर जंगबंदी की पुनर्बहाली का असर वीरवार काे ईद की मुबारक मौके पर भी नजर आया। टिटवाल, करनाह और उड़ी में एलओसी पर भारतीय व पाकिस्तानी सेना के अधिकारियों व जवानों के बीच ईद की मिठाई और बधाईयों का भी आदान प्रदान हुआ। इस अवसर पर संबंधित सैन्याधिकारियों ने जंगबंदी को मजबूत बनाने और सरहद पर अमन को कायम रखने में एक दूसरे के सहयोग का भी यकीन दिलाया।

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में टिटवाल सेक्टर में किशनगंगा दरिया पर बने पुल और उड़ी-बारामुला में अमन कमान सेतु पर आज सुबह पाकिस्तानी और भारतीय सैन्याधिकारी एक दूसरे से ईद के मुबारक मौके पर मिले। भारतीय सैन्याधिकारियों ने पाकस्तानी सैन्यधिकारियों को ईद की मिठाई व अन्य उपहार भेंट किए। पाकिस्तानी सेना के अधिकारियों ने भी उन्हें बदले में मिठाई भेंट की और ईद की शुभकामनाएं दी। इस दौरान दोनों पक्षों ने कोविड-19 प्रोटोकाल का भी पूरा पालन किया।जम्मू प्रांत में पुंछ के चक्कां दा बाग में एलओसी पर भारतीय सेना और पाकिस्तानी सेना के अधिकारियों के बीच की मिठाई का आदान-प्रदान हुआ।

रक्षा मामलों के विशेषज्ञों के अनुसार, जिस तरह से फरवरी में दोनों मुल्कों के बीच एलओसी व अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जंगबंदी की पुनर्बहाली का फैसला व उस पर अमल शुरु हुआ है, उसे देखते हुए आज का घटनाक्रम भी बहुत मायने रखता है। बीते कुछ वर्षों के दौरान दोनों मुल्कों में तनाव के दौरान अक्सर ईद और दिवाली पर मिठाई का आदान-प्रदान बंद हो गया था। बीते तीन माह के दौरान उत्तरी कश्मीर में ही नहीं पुंछ में भी भारत-पाकिस्तान ने एक दूसरे के उन नागरिकाें को लाैटाया है,जो भूलवश LoC कर एक दूसरे के इलाके में दाखिल हो गए थे। उन्होंने बताया कि जिस तरह से आज दोनों मुल्कों के सैन्याधिकारियों ने एलओसी पर एक दूसरे के प्रति जो रवैया अपनाया है,उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि एलओसी और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर शांति बनाए रखने के मामले में आगे और भी प्रगति होगी।

नियंत्रण रेखा पर जहां आए दिन गोलियां और मोर्टार का आदान-प्रदान होता था। वहीं युद्ध विराम समझौते के बाद नियंत्रण रेखा पर ईद के अवसर पर गोलियों के बदले मिठाइयों का आदान-प्रदान किया गया।

वीरवार को ईद के अवसर पर पुंछ जिला में स्थित चक्कना दा बाग से भारतीय सेना और पाकिस्तान सेना के बीच नियंत्रण पर मिठाई भेंट कर ईद की शुभकामनाएं दी। रमजान के मुबारक माह के बाद ईद-उल-फितर के अवसर पर केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के सीमावर्ती जिला पुंछ के चक्कना दा बाग और मेंढर के तत्ता पानी रोशनी पोस्ट इलाके से नियंत्रण रेखा पर मुख्य गेट खोले गए और दोनों देशों की सैन्य अधिकारियों सहित जवानों ने एक दूसरे सैन्य अधिकारियों के बीच मिठाईयों का आदान-प्रदान कर ईद की शुभकामनाएं दी।

इससे पहले ईद या फिर दीपावली के अवसर पर पाक सेना गोलाबारी शुरू कर देती थी और कई बार सीमा पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच मिठाइयों का आदान प्रदान रद्द हो जाता था, लेकिन इस बार शांति के माहौल में ईद का पर्व मनाया जा रहा है। इसी के चलते दोनों देशों की सीमाओं पर बने गेटों को खोला गया और भारत व पाक सेना के अधिकारियों ने एक दूसरे को मिठाइयां भेंट की। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.