Jammu Kashmir: बारामुला के फतेहगढ़ में लगी आग, कई घर-दुकानें तबाह, सेना ने आग पर काबू पाने में किया सहयोग

रात 11.10 बजे आग लगने के बाद लोगों ने खुद इसे बुझाने की कार्रवाई शुरू करने के साथ इसकी सूचना सेना को दे दी। सेना की दो क्विक रिएक्शन टीमें अधिकारियों की देखरेख में मौके पर पहुंच गई। आग पर पानी फैंक कर इसे बुझाने की कोशिश की गई।

Vikas AbrolPublish:Sun, 05 Dec 2021 12:10 PM (IST) Updated:Sun, 05 Dec 2021 12:10 PM (IST)
Jammu Kashmir: बारामुला के फतेहगढ़ में लगी आग, कई घर-दुकानें तबाह, सेना ने आग पर काबू पाने में किया सहयोग
Jammu Kashmir: बारामुला के फतेहगढ़ में लगी आग, कई घर-दुकानें तबाह, सेना ने आग पर काबू पाने में किया सहयोग

जम्मू, राज्य ब्यूरो। उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले के फतेहगढ़ गांव मे शनिवार देर रात को लगी भीषण आग में कई घर, दुकाने तबाह हो गए। आग शनिवार रात ग्यारह बजे के करीब लगी।

फायर ब्रिगेड, स्थानीय निवासियों के साथ मिलकर सेना के जवानों ने करीब दो घंटे तक अभियान चलाकर रात सवा एक बजे के करीब इस आग पर काबू पाया है। इस आग में जानी नुकसान होने की फिलहाल कोई सूचना नही है। अलबत्ता इा आग में कुछ मवेशियों के मारे जाने की सूचना है। जिला प्रशासन ने आग से लोगों को हुए नुकसान का आंकलन करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

रात 11.10 बजे आग लगने के बाद लोगों ने खुद इसे बुझाने की कार्रवाई शुरू करने के साथ इसकी सूचना सेना को दे दी। सेना की दो क्विक रिएक्शन टीमें अधिकारियों की देखरेख में मौके पर पहुंच गई। इस दौरान मानव श्रंखला बनाकर आग पर पानी फैंक कर इसे बुझाने की कोशिश की गई। आग घनी आबादी वाले इलाके में लगी थी। ऐसे में मकानों, दुकानों के पास पेड़ों को भी आग लग गई। स्थानीय पुलिस, फायर ब्रिगेड के साथ सुरक्षाबलों के जवान भी मदद करने के लिए आ पहुंचे। सेना के जवानों ने अभियान चलाकर अपने उपकरणों के साथ फायर ब्रिगेड के घटनास्थल तक पहुंचने के लिए जगह बनाई। करीब दो घंटे की कड़ी मेहनत के बाद इस बड़ी आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने के कारणोंं का पता लगाया जा रहा है। आग लगने की इस घटना में फिलहाल जानी नुकसान होने की कोई सूचना नही है।

श्रीनगर के पीआरओ डिफेंस लेफ्टिनेंट कर्नल एमरान मुसावी ने बताया कि सेना के जवान अगर फौरन मौके पर नही पहुंच जाते तो इस आग से अधिक नुकसान होना तय था। इसी बीच स्थानीय पंचों व सरपंचों ने फौरन मदद के लिए भारतीय सेना के जवानों का आभार जताया।

वहीं दूसरी ओर जिला प्रशासन की टीमों ने आग लगने से हुए नुकसान का आंकलन करने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है। जल्द रिपोर्ट बनाकर जिला प्रशासन को सौंपी जाएगी। ऐसे में यह कार्रवाई पूरी होने के बाद यह स्पष्ट होगा कि इसमें कितने घर व दुकानें तबाह हुई हैं।