जम्मू-कश्मीर की फेंसिंग कोच रचना Khelo India आइडेंटिफिकेशन प्रोग्राम की North Zone कमेटी में चयनित

जम्मू-कश्मीर स्पोटर्स काउंसिल की फेंसिंग कोच रचना जम्वाल

जम्मू-कश्मीर स्पोटर्स काउंसिल की फेंसिंग कोच रचना जम्वाल को खेलो इंडियो की टैलेंट आइंडेंटिफिकेशन जोनल कमेटी की नार्थ जोन (फेंसिंग) में चयनित किया गया है। रचना अब नार्थ जोन में विशेष रूप से फेंसिंग खेल के उदीयमान खिलाड़ियों को चयनित कर उनके भविष्य को संवारने का काम करेंगी।

Publish Date:Mon, 11 Jan 2021 02:12 PM (IST) Author: Vikas Abrol

जम्मू, विकास अबरोल। जम्मू-कश्मीर स्पोटर्स काउंसिल की फेंसिंग कोच रचना जम्वाल को खेलो इंडियो की टैलेंट आइंडेंटिफिकेशन जोनल कमेटी (Khelo India Talent Identification Zonal Committee) की नार्थ जोन (फेंसिंग) में चयनित किया गया है। भारत सरकार के युवा मामले एवं खेल मंत्रालय की ओर से रचना जम्वाल को इस संबंध में नियुक्ति पत्र भी हासिल हो चुका है। रचना अब नार्थ जोन में विशेष रूप से फेंसिंग खेल के उदीयमान खिलाड़ियों को चयनित कर उनके भविष्य को संवारने का काम करेंगी।

खेलो इंडिया टैलेंट आइडेंटिफिकेशन कमेटी के हाई परफाॅर्मेंस डायरेक्टर डॉ. एसएस राव ने बताया कि फेंसिंग कोच रचना जम्वाल हरियाणा, लद्दाख, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, दिल्ली और चंडीगढ़ में प्रतिभाओं को तलाशने और तराशने के लिए प्रयत्नशील रहेंगी। इससे आने वाले समय में देश के नार्थ जोन से फेंसिंग खेल में उदीयमान खिलाड़ियों को आगे बढ़ने के परस्पर मौके उपलब्ध करवाए जाएंगे।

रचना जम्वाल का अब तक सफर :

जम्मू-कश्मीर से फेंसिंग में पटियाला से एनआइएस करने वाली पहली महिला फेंसिंग कोच हैं। वह पिछले 15 वर्षों से जम्मू कश्मीर स्पोटर्स काउंसिल में कोच के रूप में अपनी सेवाएं दे रही हैं। गवर्नमेंट महिला कॉलेज गांधीनगर से आटर्स में उन्होंने ग्रेजुएशन की। इसके उपरांत जम्मू यूनिवर्सिटी से एजूकेशन में मास्टर्स की डिग्री उत्तीर्ण की। नेशनल गेम्स सहित एक दजर्न के करीब नेशनल फेंसिंग प्रतियोगिताओं में भाग लेकर वह अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुकी हैं। यही वजह है कि उनके खेल में रिकार्ड तोड़ प्रदर्शन को मद्देनजर रखते हुए उन्हें स्पोटर्स काउंसिल में वर्ष 2005 में कांट्रेक्ट आधार पर फेंसिंग कोच में रूप में नौकरी करने का मौका मिला। तब से लेकर आज तक उन्होंने फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। उनकी सेवाओं को मद्देनजर रखते हुए वर्ष 2013 में उन्हें जूनियर कोच के रूप में स्थायी कर दिया गया।

गणतंत्र दिवस परेड में कर चुकी हैं प्रतिनिधित्व :

रचना जम्वाल न सिर्फ खेलों बल्कि एनसीसी में भी राज्य का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। एनसीसी में बी और सी सर्टिफिकेट करने के उपरांत रचना ने गणतंत्र दिवस परेड में राज्य का जूनियर अंडर ऑफिसर के रूप में भी प्रतिनिधित्व किया है।

शेर-ए-कश्मीर अवार्ड से भी हो चुकी हैं सम्मानित :

रचना की फेंसिंग खेल के प्रति उनकी सेवाओं को मद्देनजर रखते हुए उन्हें राज्य स्तर पर कई बार पुरस्कृत किया जा चुका है। उन्हें प्रदेश के प्रतिष्ठित अवार्ड शेर-ए-कश्मीर से भी नवाजा जा चुका है। वर्ष 2005 से वर्ष 2017 तक रचना से प्रशिक्षण लेने वाले 50 के करीब खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतकर देश, प्रदेश और कोच को गौरवांवित कर चुके हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.