दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Srinagar Encounter: खोनमोह मुठभेड़ में अल-बदर के दो आतंकी ढेर, शव लेकर सुरक्षाकर्मी लौटे

प्रशासन ने एहतियात के तौर पर इलाके में इंटरनेट सेवा बंद कर दी है।

Kashmir Encounter अभियान समाप्त करने से पहले इलाके में और आतंकियों की मौजूदगी की आशंका के चलते तलाशी अभियान भी चलाया गया। जब यह यकीन हो गया कि आसपास और कोई आतंकी मौजूद नहीं है तो सुरक्षाकर्मी दोनों आतंकियों के शव लेकर वहां से चले गए।

Rahul SharmaMon, 17 May 2021 08:07 AM (IST)

श्रीनगर, जेएनएन। आत्मसमर्पण करने का बार-बार मौका दिए जाने के बाद भी जब आतंकवादी नहीं माने तो सुरक्षाबलों ने दोनों को ढेर कर दिया। श्रीनगर के साथ लगते खोनमोह इलाके के लोन मुहल्ला में सुबह से जारी मुठभेड़ में अल-बदर के दो आतंकी मारे गए हैं। मारे गए आतंकियों की पहचान उमर मुश्ताक खांडे पुत्र मुश्ताक अहमद निवासी तुरकवांगम पांपोरा और वसीम बशीर पंडित पुत्र बशीर अहमद पंडित निवासी काकापोरा के तौर पर हुई है।

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने दोनों आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि ये दोनों आतंकी संगठन अल-बदर से संबंधित थे। फिलहाल इनकी पहचान जाहिर नहीं की गई है परंतु ये स्थानीय बताए जाते हैं। सर्च ऑपरेशन के बाद इलाके में और आतंकियों की मौजूदगी न होने की पुष्टि होने पर सुरक्षाकर्मी दोनों आतंकियों के शव लेकर वहां से लौट गए।

श्रीनगर के साथ लगते खानमोह इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच सुबह से जारी मुठभेड़ में आखिरकार बिना नुकसान सुरक्षाबलों ने दोनों आतंकियों को मार गिराया है। ये दोनों आतंकी लोन मुहल्ला में स्थित एक मकान में छिपे हुए थे। दोनों आतंकियों को मार गिराने से पहले सुरक्षाबलों ने उन्हें आत्मसमर्पण करने के लिए कई बार मौके दिए परंतु वे नहीं माने। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक ये दोनों आतंकी अल-बदर आतंकी संगठन से थे। इनमें एक अल-बदर का कमांडर भी बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस ने इस संबंध में कोई भी अधिकारिक जानकारी नहीं दी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज तड़के सुरक्षाबलों को खोनमोह इलाके में आतंकियों के देखे जाने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही एसओजी, सेना की 50 आरआर और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम इलाके में पहुंच गई। आतंकियों की तलाश शुरू कर दी। ये खानमोह इलाके में शाह मुहल्ला में छिपे हुए थे। सुरक्षाकर्मी जब घर-घर की तलाशी ले रहे थे, तभी मकान में छिपे इन आतंकियों ने सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई करने से पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने को कहा परंतु उन्होंने गोलीबारी जारी रखी।

सुरक्षाबलों को अपने पर हावी होते देख दोनों आतंकियों ने वहां से भाग निकलने का प्रयास किया। काफी देर तक जब आतंकियों की ओर से गोलीबारी नहीं हुई तो सुरक्षाबलों ने एक बार फिर उनकी तलाश शुरू कर दी। शाह मुहल्ला से निकलकर आतंकी साथ लगते लोन मुहल्ला में पहुंच गए थे। इस बार सुरक्षाबलों ने सबसे पहले आतंकी जिस घर में छिपे थे, उसकी घेराबंदी की और एक बार फिर उन्हें आत्मसमर्पण करने के लिए कहा।

जब काफी देर तक आतंकियों ने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया तो सुरक्षाबलों ने भी जवाबी फायर शुरू कर दिया। एक के बाद एक दोनों आतंकियों को मार गिराया गया। मारे गए आतंकियों की पहचान उमर मुश्ताक खांडे पुत्र मुश्ताक अहमद निवासी तुरकवांगम पांपोरा और वसीम बशीर पंडित पुत्र बशीर अहमद पंडित निवासी काकापोरा के तौर पर हुई है।

जानकारी के अनुसार सुरक्षाबलों ने दोनों आतंकियों के शवों व मुठभेड़ स्थल से मिले हथियारों को अपने कब्जे में ले लिया है। अभियान समाप्त करने से पहले इलाके में और आतंकियों की मौजूदगी की आशंका के चलते तलाशी अभियान भी चलाया गया। जब यह यकीन हो गया कि आसपास और कोई आतंकी मौजूद नहीं है तो सुरक्षाकर्मी दोनों आतंकियों के शव लेकर वहां से चले गए। 

यह भी पढ़ें:-

- आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कहा- श्रीनगर में अब भी सक्रिय हैं 5 आतंकी, कोई विदेशी आतंकी नहीं

- Army in Jammu: मददगार बनी सेना; किश्तवाड़ में 11 हजार फीट पर फंसे बक्करवालों तक पहुंचाई मदद

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.