Jammu Kashmir: कोरोना महामारी के दौर में विद्यार्थियों का स्वयं का आकलन जरूरी : डाॅ पीके श्रीवास्तव

जम्मू सहोदय स्कूल परिसर में आज यानि मंगलवार को जम्मू के स्कूलों के लिए पीर एजूकेटर्स कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। ऑनलाइन माध्यम से आयोजित इस कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। इसमें प्रख्यात प्रधानाध्यापक समन्वयक और भारत के भविष्य के समकक्ष शिक्षक शामिल थे।

Vikas AbrolTue, 15 Jun 2021 06:47 PM (IST)
ऑनलाइन माध्यम से आयोजित इस कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू सहोदय स्कूल परिसर में आज यानि मंगलवार को जम्मू के स्कूलों के लिए पीर एजूकेटर्स कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। ऑनलाइन माध्यम से आयोजित इस कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। इसमें प्रख्यात प्रधानाध्यापक, समन्वयक और भारत के भविष्य के समकक्ष शिक्षक शामिल थे।

आज के सत्र में वरिष्ठ मनो चिकित्सक डा जितेंद्र नागपाल, मनोदर्पण कार्यकारी समूह की सदस्य और केयर नार्थ के काउंसलर और निदेशक डा चंद्र त्रेहन ने अपने विचार रखे। डा. नागपाल ने कहा कि इस कार्यक्रम के आयोजन का मुख्य उद्देश्य युवा दिमाग के बिना किसी डर, उत्पीड़न व गलतफहमी के एक सुरक्षित स्थान और सीखने के लिए एक उचित वातावरण प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों ने सामाजिक जुड़ाव बढ़ेगा और सहयोगी सहकर्मी नेटवर्क के भीतर अपनेपन की भावना पैदा करने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि जारी महामारी के इस दौर में सोच का एक नया कैनवास बनाया है और यही वजह है कि मौजूदा परिदृश्य के हिसाब से मानसिक बदलाव भी काफी महत्वपूर्ण है।

डॉ. त्रेहन ने सहकर्मी शिक्षकों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि आत्मनिरीक्षण करने और उच्च आत्म सम्मान रखने की जरूरत है। डीपीएसजी की पूर्व छात्रा वैष्णवी भारद्वाज ने अपने संबोधन में कहा कि आने समय चुनौतियों से भरा है और हम सभी को, विशेषकर शिक्षकों को इसके लिए तैयार रहना होगा।

माडल एकेडमी जम्मू के प्रिंसिपल एवं सहोदय स्कूल कांप्लेक्स जम्मू के अध्यक्ष डॉ. प्रमोद कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि यह कार्यक्रम विद्यार्थियों को दूसरों का आकलन करने और प्रतिक्रिया प्रदान करने में मदद करेगा। इसकी मदद से विद्यार्थी आजीवन कौशल विकसित करने और स्वयं का आकलन करने में सफल हो सकेंगे।

अंत में डीपीएस ऊधमपुर के प्रिंसिपल एवं जम्मू सहोदय स्कूल परिसर के महासचिव डॉ कुणाल आनंद ने धन्यवाद प्रस्ताव पेश कर कार्यक्रम के समापन की घोषणा की।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.