जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में कर्मचारियों का बंटवारा, 11189 लद्दाखी कर्मचारियों की हुई घर वापसी

Union Territory Ladakh जम्मू प्रशासन ने लद्दाख में डेपुटेशन पर भेजे अपने 22 अधिकारियों कर्मचारियों को जम्मू कश्मीर वापस बुलाने के लिए यहां पर सेवाएं दे रहे वित्त विभाग के 22 लद्दाखी कर्मचारियों को भी वापस भेजने का फैसला कर दिया।

Rahul SharmaTue, 16 Nov 2021 07:50 AM (IST)
भविष्य में प्रदेश से कर्मचारियों को डेपुटेशन पर भेजा जा सकता है।

जम्मू, राज्य ब्यूरो : केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में प्रशासनिक कामकाज को तेजी देने के लिए प्रदेश प्रशासन ने सोमवार को अहम फैसला करते हुए जम्मू कश्मीर में सेवाएं दे रहे 11,189 लद्दाखी अधिकारियों व कर्मचारियों को वापस भेज दिया। इन कर्मियों ने जम्मू कश्मीर के पुनर्गठन के बाद उन्हें लद्दाख भेजे जाने का आवेदन किया था।

उपराज्यपाल प्रशासन ने इन अधिकारियों व कर्मचारियों को लद्दाख भेजने के साथ लद्दाख को अधिकारियों, कर्मचारियों के 1756 पद भी सौंपे। इन पदों पर लद्दाख में नियुक्ति की जाएगी। इसके साथ जम्मू प्रशासन ने लद्दाख में डेपुटेशन पर भेजे अपने 22 अधिकारियों, कर्मचारियों को जम्मू कश्मीर वापस बुलाने के लिए यहां पर सेवाएं दे रहे वित्त विभाग के 22 लद्दाखी कर्मचारियों को भी वापस भेजने का फैसला कर दिया।

भविष्य में कर्मियों को डेपुटेशन पर भेजा जा सकता है लद्दाख : जम्मू कश्मीर प्रशासन ने जम्मू कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम के तहत जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में कर्मचारियों के बंटवारे संबंधी आदेश जारी करने के साथ यह भी स्पष्ट किया है कि लद्दाख को कर्मचारियों की कमी को दूर करने के लिए भविष्य में प्रदेश से कर्मचारियों को डेपुटेशन पर भेज जा सकता है।

किस विभाग से कितने कर्मी भेजे गए : प्रशासन ने जिन 11,189 कर्मचारियों व अधिकारियों को की सेवाएं लद्दाख के हवाले की हैं, उनमें से 42 कृषि विभाग, 943 पशुपालन विभाग, पांच एआरआइ ट्रेनिंग, 24 संस्कृति, 100 सहकारिता विभाग, सात चुनाव विभाग, 224 फाइनांस, एक बागवानी, 24 खाद्य आपूर्ति, 67 वन, 17 जीएडी, 1753 स्वास्थ्य विभाग से हैं। इनके अलावा चार उच्च शिक्षा, 1943 गृह, एक हार्टिकल्चर, 128 आवास, एक हास्पिटैलिटी, 28 इंडस्ट्री, 40 सूचना विभाग, 444 जल शक्ति, 51 श्रम, सात कानून विभाग, आठ खनन, 374 बिजली, 263 लोक निर्माण, दो राजस्व, 158 ग्रामीण विकास, 4131 स्कूली शिक्षा, 40 कौशल विकास, दो समाज कल्याण, 27 पर्यटन, चार ट्रांसपोर्ट व 326 खेल विभाग से हैं।

कर्मचारियों को तुरंत रिलीव करें प्रशासनिक सचिव : इस सूची में लद्दाख भेजे जाने वाले उन 3369 कर्मचारियों के नाम शामिल नहीं किए गए हैं जिनके कागजात की संबंधित प्रशासनिक विभागों द्वारा अभी वेरिफिकेशन करना बाकी है। आदेश में स्पष्ट किया गया है कि लद्दाख भेजे जा रहे जो अधिकारी इस समय जम्मू कश्मीर में तैनात हैं, उन्हें प्रशासनिक सचिव तुरंत रिलीव करें। वहीं, दूसरी ओर इस समय जम्मू कश्मीर के जो अधिकारी व कर्मचारी लद्दाख में सेवाएं दे रहे हैं, उनको वापस बुलाने के लिए अलग से आदेश जारी किया जाएगा।

एक अन्य आदेश में जम्मू कश्मीर प्रशासन ने राजपत्रित 221 पदों के साथ गैर राजपत्रित 1535 पदों को भी लद्दाख को ट्रांसफर किया है। ये पद स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा लद्दाख को ट्रांसफर किए गए 1284 पदों के अलावा हैं। यह आदेश सामान्य प्रशासन विभाग के आयुक्त सचिव मनोज कुमार द्विवेदी की ओर से जारी किया गया। प्रशासन ने इस संबंध में तीसरे आदेश में डेपुटेशन पर लद्दाख में सेवाएं दे रहे जम्मू कश्मीर वित्त विभाग के 22 अधिकारियों व कर्मचारियों को जम्मू कश्मीर ट्रांसफर करने का आदेश भी जारी कर दिया गया है। इन अधिकारियों को जम्मू कश्मीर वित्त विभाग को रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है। वहीं, जम्मू-कश्मीर में तैनात लद्दाख के इतने ही अधिकारियों, कर्मचारियों को लद्दाख ट्रांसफर करने का आदेश जारी किया गया है। इन अधिकारियों को लद्दाख जीएडी विभाग को रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.