जम्मू कश्मीर में नए कार्यकर्ताओं के सहारे कांग्रेस खुद को मजबूत करने में जुटी

पार्टी के पूर्व मंत्री पूर्व विधायक पूर्व एमएलसी जमीनी स्तर लोगों से संपर्क कर महंगाई बेरोजगारी के मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेर रहे हैं और कांग्रेस में शामिल होने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। पार्टी ने जम्मू-कश्मीर में 12 लाख नए कार्यकर्ता जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

Lokesh Chandra MishraFri, 26 Nov 2021 05:33 PM (IST)
प्रदेश कांग्रेस कमेटी जम्मू कश्मीर के प्रधान जीए मीर ने गत दिनों जम्मू में सदस्यता अभियान को लांच किया था।

जम्मू, राज्य ब्यूरो : केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में गुटबाजी का सामना कर रही कांग्रेस ने नए कार्यकर्ताओं को साथ जोड़ने की मुहिम शुरू की है। साल 2014 से पार्टी का आधार जम्मू कश्मीर में काफी कमजोर हो चुका है। अपना आधार मजबूत करने की कोशिश में मार्च 2022 तक पार्टी का सदस्यता अभियान चलेगा। प्रदेश कांग्रेस कमेटी जम्मू कश्मीर के प्रधान जीए मीर ने गत दिनों जम्मू में सदस्यता अभियान को लांच किया था। प्रदेश के दूरदराज के क्षेत्रों में युवाओं, महिलाओं, आरक्षित वर्ग के लाेगों को जोड़ने पर पार्टी का जोर रहेगा। इस समय पार्टी का महंगाई के मुद्दे पर जन जागरण अभियान चल रहा है। इसके साथ ही सदस्यता अभियान को शुरू किया गया है।

पार्टी के पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक, पूर्व एमएलसी जमीनी स्तर लोगों से संपर्क कर महंगाई, बेरोजगारी के मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेर रहे हैं और कांग्रेस में शामिल होने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। पार्टी ने जम्मू-कश्मीर में 12 लाख नए कार्यकर्ता जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इस समय जम्मू कश्मीर में कांग्रेस के दो गुट हैं। पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद का एक गुट है तो दूसरा गुट प्रदेश प्रधान जीए मीर का है। हाल ही में आजाद के समर्थक दो दर्जन के करीब नेता पार्टी के अपने पदों से इस्तीफा दे चुके हैं। इनमें वरिष्ठ नेता जीए सरूरी, मनोहर लाल शर्मा, विकार रसूल, जुगल किशोर शामिल हैं। हालांकि इन नेताओं ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि हम बदलाव चाहते हैं। प्रदेश प्रधान सात साल से पद पर बने हुए हैं।

ये सभी नेता पार्टी हाईकमान के कहने पर अपने अपने क्षेत्रों में सदस्यता अभियान, जन जागरण अभियान में भाग ले रहे हैं। पिछले दिनों गुलाम नबी आजाद के जम्मू के दौरे के दौरान इन नेताओं ने मीर पर दबाव बनाने के लिए अपने पदों से त्यागपत्र दे दिए थे। प्रदेश जीए मीर का कहना है कि उन्हें तो किसी ने इस्तीफा नहीं दिया है। वह तो मीडिया से ही सुन रहे हैं। हम जन जागरण और सदस्यता अभियान को प्रभावी तरीके से चला रहे हैं। अधिक से अधिक कार्यकर्ताओं को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रविंद्र शर्मा का कहना है कि सदस्यता अभियान को बूथ, तहसील, वार्ड स्तर पर चलाया जा रहा है। युवाओं, एससी, एसटी, ओबीसी, महिलाओं को सदस्य बनाने पर विशेष ध्यान है। इस समय मुख्य मुद्दा महंगाई, बेरोजगारी का है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.