Helping Hand: बड़गाम पुलिस बनी मसीहा, बर्फबारी में फंसे खानाबदोश समुदाय के 4 परिवारों के 16 सदस्यों को बचाया

शनिवार को भी कश्मीर में जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक ऐसा ही मानवता से भरा चेहरा देखने को सामने आया। जब बड़गाम पुलिस के जवान मसीहा बनकर आए और खानाबदोश समुदायों के चार परिवारों के 16 सदस्यों की जिंदगी अपनी जान की बाजी लगाते हुए बचाई।

Vikas AbrolSat, 23 Oct 2021 04:03 PM (IST)
भारी बर्फबारी और तूफान में फंसे खानाबदोश समुदाय के चार परिवारों के 16 सदस्यों की जिंदगियों को बचा लिया।

श्रीनगर, जेएनएन। आतंकियों से लोहा लेने में सक्षम जम्मू-कश्मीर पुलिस का किसी भी मैदान में कोई सानी नहीं है। आतंकवादियों काे मार गिराना हो या फिर खेल का मैदान हो या फिर मानवता सेवा का। जम्मू-कश्मीर पुलिस के हरेक अधिकारी और जवान हर क्षेत्र में अपनी जान की बाजी लगाते हुए अपने कार्य को निष्ठा से अंजाम देने में जुटे रहते हैं।

शनिवार को भी कश्मीर में जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक ऐसा ही मानवता से भरा चेहरा देखने को सामने आया। जब बड़गाम पुलिस के जवान मसीहा बनकर आए और खानाबदोश समुदायों के चार परिवारों के 16 सदस्यों की जिंदगी अपनी जान की बाजी लगाते हुए बचाई।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इसकी जानकारी इंटरनेट मीडिया पर साझा करते हुए दी कि आज यानि शनिवार सुबह प्रदेश में जारी मूसलाधार बारिश और बर्फबारी से नागबल युसमर्ग के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में पुलिस को खानाबदोश परिवारों के फंसे होने की सूचना मिली। इसका पता चलते ही बड़गाम पुलिस ने तुरंत राहत अभियान छेड़ दिया और भारी बर्फबारी और तूफान में फंसे खानाबदोश समुदाय के चार परिवारों के 16 सदस्यों की जिंदगियों को बचा लिया। खानाबदोश समुदाय के सदस्यों ने बड़गाम पुलिस को फरिश्ता करार देते हुए उन्हें दुआएं भी दी।

हालांकि यह कोई पहला मौका नहीं है। इससे पहले इसी वर्ष कश्मीर में सर्दियों के मौसम में जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना के जवानों ने भारी बर्फबारी के दौरान एक दर्जन से अधिक राहत और बचाव अभियानों में भाग लेकर मासूम जिंदगियों को बचाने में अहम भूमिका निभाई थी। 

Helping Hand: Budgam Police rescued 04 families comprising of 16 members of nomadic community stuck in heavy winds and snowfall at higher reaches of Nagbal Yousmarg (Salamnak Nagbal top)

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में तड़के दो बजे से मूसलाधार बारिश जारी है। उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी और तेज हवाएं चलने से खानाबदोश परिवारों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पुलवामा के त्राल के नूरपोरा इलाके में लगातार बारिश से एक मिट्टी का मकान ढहने से उसमें रह रहे खानाबदोश समुदाय के चार में से तीन सदस्यों ने दम तोड़ दिया जबकि एक अन्य घायल ही हालत गंभीर बनी हुई है। उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.