Youth Engagement: जम्मू-कश्मीर में ग्रामीण स्कूल स्थापित करेगा अशोक लेलैंड, श्रीनगर में यूथ इंगेजमेंट कार्यक्रम में दिया प्रस्ताव

पहला सत्र पीडब्ल्यूसी इंडिया के शशांक की अध्यक्षता में हुआ।
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 03:45 PM (IST) Author: Rahul Sharma

जम्मू, राज्य ब्यूरो। जम्मू-कश्मीर के युवाओं को रोजगार देने और उनका भविष्य संवारने के लिए श्रीनगर में चल रहा यूथ इंगेजमेंट कार्यक्रम वरदान साबित हो सकता है। कई बड़े औद्योगिक घरानों ने युवाओं के लिए कई घोषणाएं की हैं। अशोक लेलैंड ने ग्रामीण स्कूल स्थापित करने का प्रस्ताव दिया है। इन स्कूलों में उन बच्चों को भर्ती किया जाएगा जोकि आर्थिक तंगी के कारण पढ़ाई छोड़ देते हैं।

इन स्कूलों में बच्चों की रूची के अनुसार उनका कौशल विकास किया जाएगा। इसका मकसद ऐसे बच्चों को प्रशिक्षित कर उन्हें रोजगार के अवसर मुहैया करवाना है। यह कार्यक्रम श्रीनगर के एसकेआइसीसी में इस समय चल रहा है। इनमें 30 के करीब औद्योगिक घरानों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।

पहला सत्र पीडब्ल्यूसी इंडिया के शशांक की अध्यक्षता में हुआ। वहीं कार्यक्रम के दौरान इंडियन इंस्टीट्यूट आॅफ मैनेजमेंट के डॉयरेक्टर ने कहा कि सरकार को गैर सरकारी संगठनों को भी बढ़ावा देना चाहिए ताकि वे भी आगे आकर युवाओं की सहायता कर सकें। वक्ताओं ने कहा कि युवाओं के कौशल विकास की जरूरत है। इससे उन्हें रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।

युवाओं को उनके भविष्य संवारने के प्रति जागरूक करने के लिए पोटल और कॉल सेंटर बनाने की भी जरूरत है। इस सत्र में उद्याेगपतियों व अधिकारियों ने कई सुझाव दिए। इससे पहले इस कार्यक्रम का आगाज जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने किया। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.