Jammu Kashmir : एलओसी पर पाक के मंसूबे नाकाम बनाने को सेना की अतिरिक्त ब्रिगेड तैनात

Jammu Kashmir : एलओसी पर पाक के मंसूबे नाकाम बनाने को सेना की अतिरिक्त ब्रिगेड तैनात
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 11:19 AM (IST) Author: Rahul Sharma

श्रीनगर, एएनआइ । पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ जारी सैन्य तनाव का फायदा उठाने की फिराक में बैठी पाकिस्तानी सेना के मंसूबे नाकाम बनाने के लिए सेना ने जम्मू कश्मीर में अपनी एक अतिरिक्त ब्रिगेड तैनात की है। इसमें तीन से साढ़े तीन हजार जवान और अधिकारी शामिल हैं, जो एलओसी पर संघर्ष विराम उल्लंघन का मुंहतोड़ जवाब देने के साथ घुसपैठ रोधी तंत्र को अतिरिक्त बल भी प्रदान कर रहे हैं।

एलओसी पर अतिरिक्त सैन्य टुकड़ियों की तैनाती के आशाजनक परिणाम देखने को मिले

सूत्रों के अनुसार, एलओसी पर अतिरिक्त सैन्य टुकड़ियों की तैनाती के आशाजनक परिणाम देखने को मिले हैं। पाकिस्तान की तरफ से होने वाले घुसपैठ के लगभग हर प्रयास को सफलतापूर्वक नाकाम बनाया गया है। उन्होंने बताया कि इस साल अब तक पाकिस्तानी सेना को जम्मू कश्मीर में आतंकियों को सुरक्षित घुसपैठ कराने में कोई बड़ी कामयाबी नहीं मिली है। अक्टूबर-नवंबर में उत्तरी कश्मीर में घुसपैठ के सभी परंपरागत रास्ते हिमपात के कारण बंद हो जाते हैं। इसलिए पाकिस्तानी सेना ज्यादा से ज्यादा संख्या में आतंकियों की सुरक्षित घुसपैठ के लिए सभी हथकंडे अपना रही है। तीन दिन पहले ही सेना ने गुरेज सेक्टर में घुसपैठ के एक प्रयास को नाकाम बनाया है।

गुलाम कश्मीर में पाकिस्तानी सेना ने भी एलओसी पर अपने जवानों व अधिकारियों की संख्या बढ़ाई 

सूत्रों के अनुसार, गुलाम कश्मीर में पाकिस्तानी सेना ने भी एलओसी पर अपने जवानों व अधिकारियों की संख्या बढ़ाई है। पाकिस्तानी सेना के नापाक मंसूबों को नाकाम बनाने की भारतीय सेना ने भी पूरी तैयारी की है। उन्होंने बताया कि थलसेना प्रमुख जनरल एमएम नरवाने भी गत दिनों कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर थे। उन्होंने खुद उत्तरी कश्मीर में अग्रिम इलाकों का दौरा कर हालात का जायजा लेने के अलावा वरिष्ठ सैन्य कमांडरों के साथ सेना की ऑपरेशनल तैयारियों पर एक बैठक भी की है। उन्होंने संबंधित सैन्य कमांडरों को पूरी सतर्कता बरतने को कहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.