New Excise Policy: जम्मू की सभी बॉर फिर होंगी गुलजार, लाइसेंस 31 दिसंबर तक रिन्यू करने का अधिकार मिला

New Excise Policy Jammu Kashmir आबकारी विभाग ने इस साल नई आबकारी नीति के तहत सभी पुराने लाइसेंस रद करके शराब की दुकानों के लाइसेंसों की नीलामी करके नए सिरे से एक साल के लिए लाइसेंस जारी किए थे।

Rahul SharmaWed, 22 Sep 2021 09:43 AM (IST)
कोर्ट ने आबकारी विभाग को नोटिस जारी कर पक्ष रखने का निर्देश भी दिया था।

जम्मू, जागरण संवाददाता : लाइसेंस रिन्यू न होने के चलते पहली सितंबर 2021 से बंद पड़ी जम्मू की सभी बाॅर एक बार फिर गुलजार होंगी। जम्मू-कश्मीर के अतिरिक्त मुख्य सचिव अतुल ढुल्लू ने आबकारी विभाग के आयुक्त को यह अधिकार दे दिया है कि विशेष हालात में अगर वह चाहे तो शराब की दुकानों के लाइसेंस को छोड़ अन्य सभी प्रकार के लाइसेंस 31 दिसंबर 2021 तक रिन्यू कर सकते है।

अतुल ढुल्लू की ओर से मंगलवार को जारी आदेश में कहा गया है कि आयुक्त चाहे तो यह अवधि 31 दिसंबर के बाद भी बढ़ा सकते है लेकिन इसके लिए उन्हें सरकार की सहमति लेनी होगी। अतुल ढुल्लू के इस आदेश से जम्मू में पिछले 21 दिनों से बंद पड़ी बॉर फिर खुल जाएगी।

आबकारी विभाग ने इस साल नई आबकारी नीति के तहत सभी पुराने लाइसेंस रद करके शराब की दुकानों के लाइसेंसों की नीलामी करके नए सिरे से एक साल के लिए लाइसेंस जारी किए थे। शराब की दुकानों के लाइसेंस नए सिरे से जारी करने के बाद बॉर के लाइसेंस भी रिन्यू नहीं हुए और विभाग ने लाइसेंस रिन्यू करने के लिए कुल 21 एनअओसी की सूची जारी की।

ऐसे में चर्चा थी कि सरकार की ओर से शराब की दुकानें बंद करवाने के बाद अब बॉर को भी बंद करवाया गया है ताकि इनके लाइसेंस की भी नीलामी करके नए लोगों को लाया जा सके। इस मामले को लेकर बॉर चलाने वालों ने कोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया था और कोर्ट ने आबकारी विभाग को नोटिस जारी कर पक्ष रखने का निर्देश भी दिया था।

जम्मू संभाग में ही है बॉर : शराब का कारोबार मुख्य रूप से जम्मू संभाग में ही है। दुकानों के अलावा बॉर भी जम्मू में ही है।

जम्मू संभाग में कुल 258 बॉर है:

जम्मू साउथ : 43 राजौरी-पुंछ : 26 ऊधमपुर-रियासी : 26 सांबा-विजयपुर : 23 डोडा-किश्तवाड़-रामबन : 6 कठुआ : 33 जम्मू नार्थ : 41

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.