CoronaVirus in J&K : हाईकोर्ट में एक जस्टिस हुए कोरोना संक्रमित, कोर्ट परिसर को सील किया

हाईकोर्ट के यह जस्टिस शुक्रवार तक श्रीनगर बेंच में सुनवाई कर रहे थे और सोमवार को इनका जम्मू में बेंच लगना था। सोमवार सुबह वह अपने कोर्ट (कोर्ट नंबर आठ) में पहुंचे और सूचीबद्ध केसों की सुनवाई शुरू की।

Lokesh Chandra MishraPublish:Mon, 29 Nov 2021 05:46 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 05:46 PM (IST)
CoronaVirus in J&K : हाईकोर्ट में एक जस्टिस हुए कोरोना संक्रमित, कोर्ट परिसर को सील किया
CoronaVirus in J&K : हाईकोर्ट में एक जस्टिस हुए कोरोना संक्रमित, कोर्ट परिसर को सील किया

जम्मू, जागरण संवाददाता : जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हाईकोर्ट की जम्मू विंग में सोमवार को एक जस्टिस कोरोना संक्रमित पाए गए। जस्टिस की काेरोना जांच पाजीटिव आते ही उनकी कोर्ट को सील कर दिया गया है और पूरे स्टॉफ की जांच प्रकिया को शुरू कर दिया गया है। यह जस्टिस पहले हाईकोर्ट की श्रीनगर विंग में थे और इसी सप्ताह से उन्होंने जम्मू बेंच में बैठना शुरू करना था। सोमवार सुबह जब वह कोर्ट पहुंचे तो स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण उन्होंने जांच करवाई तो संक्रमित पाए गए।

जानकारी के मुताबिक हाईकोर्ट के यह जस्टिस शुक्रवार तक श्रीनगर बेंच में सुनवाई कर रहे थे और सोमवार को इनका जम्मू में बेंच लगना था। सोमवार सुबह वह अपने कोर्ट (कोर्ट नंबर आठ) में पहुंचे और सूचीबद्ध केसों की सुनवाई शुरू की। इस दौरान उन्होंने बुखार महसूस होने पर सुनवाई में बीच में रोक कर जांच करवाई तो संक्रमित होने की पुष्टि हुई। जस्टिस के संक्रमित पाए जाने के तत्काल बाद कोर्ट नंबर आठ को सील कर दिया गया। कोर्ट में उनके करीब 15 स्टाफ सदस्य है, जिन्हें तत्काल क्वारंटाइन करके उनकी जांच शुरू कर दी गई है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की विशेष टीम को जानीपुर स्थित हाईकोर्ट परिसर में तैनात किया गया।

स्वास्थ्य विभाग अब जस्टिस के संपर्क में आए लोगों की निशानदेही कर रही है। शुक्रवार तक हाईकोर्ट के जिन जस्टिस ने उनके साथ डिवीजन बेंच में सुनवाई की, उन्हें भी जांच करवाने की सलाह दी गई है। इसके अलावा श्रीनगर में उनकी कोर्ट में काम करने वाले सभी स्टॉफ सदस्यों को भी जांच होने तक स्वयं को क्वारंटाइन रखने की हिदायत दे दी गई है। संक्रमित पाए गए जस्टिस के परिवार के सदस्यों की भी जांच करवाई गई है, हालांकि उनमें से किसी के संक्रमित होने की सूचना नहीं है। ऐसा माना जा रहा है कि जस्टिस श्रीनगर में ही संक्रमित हुए जहां कोरोना के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं।