top menutop menutop menu

Jammu Kashmir: लद्दाख के 12 गांवों में 4जी सेवा शुरू, श्रीनगर से भी कर्फ्यू हटाया

Jammu Kashmir: लद्दाख के 12 गांवों में 4जी सेवा शुरू, श्रीनगर से भी कर्फ्यू हटाया
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 09:43 AM (IST) Author: Preeti jha

श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। लेह ओर कारगिज जिलों के एक दर्जन से अधिक दूरदराज के गांवों में भारती एयरटेल ने ने अपनी 4 जी सेवा श्याुरू कर दी है। कंपनी के प्रवक्ता के अनुसार एयरटेल ऐसी पहली कंपनी है जिसने लद्दाख में 4जी सेवा शुरू की है। कंपनी ने गांवों संकु, लंकरचे, झाुमरी, बारचे, संजक, गारकोन, अछीनाथंग, लेहडो, टिया, सकुरबुचान में यह सेवा शुरू की। उन्होंने कहा कि दूरदराज के गांवों में भी कंपनी यह सेवा शुरू करने के लिए काम कर रही है।

कश्मीर घाटी में मंगलवार को प्रशासनिक पाबंदियों के चलते सामान्य जनजीवन लगभग ठप रहा। इस दौरान किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पूरी वादी में सुरक्षा का कड़ा बंदोबस्त रहा। अलबत्ता, देर शाम गए तक स्थिति पूरी तरह शांत व नियंत्रित रही। इस बीच, श्रीनगर जिला प्रशासन ने हालात को पूरी तरह नियंत्रित देख जिले कर्फ्यू हटा लिया गया है। लेकिन कई इलाकों एहतियात के तौर पर और कोविड-19 के प्रसार को राेकने के लिए पहले से जारी पाबंदियां लागू रहेंगी।

अनुच्छेद-370 समाप्ति की पहली वर्षगांठ पर आज पांच अगस्त बुधवार को आतंकियों और अलगाववादियों के हिंसा भड़काने की आशंका को देखते हुए प्रदेश प्रशासन ने सोमवार देर रात गए श्रीनगर में दो दिन के लिए कर्फ्यू घोषित किया गया था। जबकि कश्मीर के अन्य जगहों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लागू कर दी थीं। कई संगठनों ने कश्मीर में पांच अगस्त को काला दिवस मनाने का एलान किया है। पूरे कश्मीर में सुरक्षा बढ़ा दी है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम लागू किया था। इसके साथ अनुच्छेद-370 और 35ए समाप्त हो गए और जम्मू-कश्मीर राज्य का दो केंद्र शासित राज्यों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के रूप में पुनर्गठन हुआ। केंद्र के फैसले से पाक, अलगाववादियों और जिहादियों के साथ-साथ अलगाववाद की आड़ में मुख्यधारा की सियासत करने वालों का एजेंडा खत्म हो गया। हताश तत्व वादी में हालात बिगाड़ने का हर संभव मौका तलाश रहे हैं। जिला मजिस्ट्रेट श्रीनगर डॉ. शाहिद इकबाल चौधरी ने शाम को श्रीनगर व साथ सटे इलाकों में तत्काल प्रभाव से पांच अगस्त शाम तक कर्फ्यू लगाने का आदेश जारी किया है।

एसएसपी श्रीनगर से मिली सूचनाओं में बताया गया है कि आतंकी व अलगाववादी तत्व पांच अगस्त को कश्मीर में काला दिवस मनाने जा रहे हैं। वह किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने के साथ हिंसा भड़का कानून व्यवस्था का संकट पैदा कर सकते हैं। जिला मजिस्ट्रेट के मुताबिक, श्रीनगर में पहले से कोविड-19 के मद्देनजर लोगों की आवाजाही और एक जगह पर उनके जमा होने पर रोक है। इसके अलावा पुलिस की रिपोर्ट हिंसा और आम जनहानि से बचने के उपायों को लागू करने के लिए कहती है। इसलिए जिले में क‌र्फ्यू लागू करना जरूरी हो जाता है। स्वास्थ्य संबधी आपात परिस्थितियों में और कोविड-19 की ड्यूटी से संबंधित स्टाफ की आवाजाही पास और वैध कार्ड के आधार पर जारी रहेगी। वहीं, प्रशासन ने देर रात आदेश जारी किया कि श्रीनगर को छोड़ कश्मीर में अन्य जगहों पर दो दिन तक क‌र्फ्यू जैसी पाबंदियां रहेंगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.