षड्यंत्र के तहत कार्यकर्ताओं को उकसाया गया : विक्रमादित्य

जेएनएन, शिमला। राजीव भवन शिमला में वीरवार को हुए विवाद की पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र एवं शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य सिंह ने आलोचना की है। उन्होंने कहा चौड़ा मैदान में कार्यक्रम पूरी तरह शांति से हुआ। लेकिन पार्टी दफ्तर में कुछ लोगों ने षड्यंत्र के तहत माहौल बिगाड़ा। जबकि चौड़ा मैदान में पार्टी दफ्तर से चार गुणा अधिक लोग थे। वहां कोई विवाद नहीं हुआ, सिर्फ दफ्तर में ही विवाद क्यों हुआ? इसकी जांच होनी चाहिए।

उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी कार्यालय में पूरा विवाद षडयंत्र के तहत हुआ। शीर्ष नेताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां की गईं। कार्यकर्ताओं को उकसाया गया, इसके बाद विवाद हुआ। एनएसयूआइ व युवा कांग्रेस के कई कार्यकर्ता घायल हुए। विक्रमादित्य ने कहा पार्टी में रहकर कुछ लोग भाजपा को मजबूत करने में लगे हैं। ऐसे लोगों का पर्दाफाश किया जाएगा।

आइजीएसी का किया भगवाकरण

विक्रमादित्य ने कहा प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल का भगवाकरण कर दिया गया है। अस्पताल भवन में भगवा रंग कर दिया गया है। ऐसा किसी भी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में नहीं हुआ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.