कांग्रेस में भाजपा के घुसपैठिये : विक्रमादित्य

राज्य ब्यूरो, शिमला : पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र ¨सह के बेटे एवं विधायक विक्रमादित्य ¨सह ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी में भाजपा के घुसपैठिये हैं। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस में भाजपा की बी टीम सक्रिय है। उन्होंने ऐसे पदाधिकारियों को पार्टी से बाहर करने की मांग की है।

विक्रमादित्य ¨सह ने पत्रकारों से कहा कि घुसपैठियों के रहते कांग्रेस को हराने के लिए भाजपा की जरूरत नहीं है। हराने के लिए ये घुसपैठिये ही काफी हैं। कांग्रेस में मौजूद विभीषण पार्टी की लंका को ढहा देंगे। उन्होंने इंटक के प्रदेशाध्यक्ष बबलू पंडित की नियुक्ति व निष्ठा पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों ने पार्टी के नए अध्यक्ष कुलदीप राठौर के सम्मान समारोह से दूरी बनाए रखी। लेकिन शराब पीकर राजीव भवन में हंगामा किया जो इत्तेफाक नहीं बल्कि सुनियोजित षड्यंत्र था। इससे पार्टी की छवि खराब हुई है। कुछ दिन पहले तक जो लोग भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर को फूलों की मालाएं पहनाते रहे, उनकी टीम ने ¨हंसा की है। उन्होंने बबलू पंडित का नाम लिया और कहा कि वह पूरे घटनाक्रम की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से शिकायत करेंगे। उन्होंने हिमाचल मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल और कुलदीप राठौर से मांग की कि वे ¨हसा के लिए जिम्मेदार लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएं। विक्रमादित्य मंडी सीट से चुनाव लड़ने के इच्छुक

विक्रमादित्य ¨सह मंडी संसदीय सीट से चुनाव लड़ने के इच्छुक हैं। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी का आदेश होगा तो वह जरूर चुनाव लड़ेंगे। इस क्षेत्र से उनके परिवार का गहरा लगाव रहा है। पहले उनके पिता वीरभद्र ¨सह मंडी सीट से कई बार सांसद रहे। उसके बाद दो बार माता प्रतिभा ¨सह सांसद रहीं। मैं खुद युवा कांग्रेस का निर्वाचित अध्यक्ष रहा। पार्टी के निर्देश पर विधायक का चुनाव लड़ा और जीता। पार्टी नई जिम्मेदारी देगी तो उसे निभाऊंगा। कांग्रेस आलाकमान के हर फैसले के साथ खड़ा रहूंगा।

-------------

आइजीएमसी के भगवाकरण का आरोप

विक्रमादित्य ¨सह ने आरोप लगाया कि इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (आइजीएमसी) शिमला का भगवाकरण हो गया है। उन्होंने कहा कि इस नामी अस्पताल की दीवारें संतरी व हरे रंग में पोत दी गई हैं। वहां कई ऐसे व्यक्ति बैठे हैं जो संघ से प्रभावित हैं। अस्पताल के एमएस आरएसएस की शाखा लगाते हैं। एचपीयू के वाइस चांसलर कह चुके हैं कि वह संघ की विचारधारा से जुड़े हैं। वरिष्ठ नौकरशाहों का विचार है कि संघ ही सरकार चला रहा है, उनकी सुनवाई नहीं हो रही है। ऐसे में कल को राज्य सचिवालय का भी भगवाकरण हो जाएगा।

----------- शाखा लगाने पर नहीं है पाबंदी

आइजीएमसी का भगवाकरण नहीं हो रहा है बल्कि वहां आयुष्मान भारत योजना का लोगो लगा है। यह केंद्र की योजना है। इसके तहत अस्पताल भी इंपैनल हुआ है। इसी के तहत लोगो लगाने की प्रक्रिया जारी है। संघ की शाखा लगाना अपराध नहीं है। शाखा लगाने पर कोई पाबंदी नहीं है।

डॉ. जनक राज, चिकित्सा अधीक्षक, आइजीएमसी शिमला

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.