मंडी में आया आफत का तूफान

जागरण टीम मंडी/करसोग/थुनाग/पद्धर/सरकाघाट मंडी जिले में शुक्रवार देर रात बारिश व तूफान

JagranSun, 13 Jun 2021 12:10 AM (IST)
मंडी में आया आफत का तूफान

जागरण टीम, मंडी/करसोग/थुनाग/पद्धर/सरकाघाट : मंडी जिले में शुक्रवार देर रात बारिश व तूफान ने कहर बरपाया। इससे 35 घरों सहित एक स्कूल और 37 पशुशालाओं को नुकसान पहुंचा है। जिले में 25.68 लाख रुपये का नुकसान राजस्व विभाग ने आंका है। सेब और अन्य फसलों को भी नुकसान पहुंचा है। सेब की 30 प्रतिशत फसल तबाह हुई बताई जा रही है।

शुक्रवार रात को तेज तूफान के कारण करसोग की ग्राम पंचायत कांडी सपनोट के बगो में मकान की छत एंगल के साथ उखड़ गई। मकान मालिक दिनेश कुमार को करीब चार से पांच लाख रुपये का नुकसान हुआ है। खनेयोल बगड़ा में तूफान ने स्कूल की छत और शाहोट पंचायत में कई घरों की छतें उड़ी हैं। कांडा में लालचंद के घर के साथ तेज बारिश की वजह से डंगा ढह गया। बारिश का पानी कमरों घुसने से सामान खराब हो गया है। कई पंचायतों में तूफान से सेब के पौधे जड़ से उखड़ गए। वहीं सरकाघाट में सूरजपुर बाड़ी गांव की लतादेवी की और मुंशीराम की पशुशालाएं ध्वस्त होने से उनको 46 हजार रुपये, हवानी गांव के हरिसिंह पुत्र पूरनचंद के मकान को क्षतिग्रस्त होने पर 50 हजार रुपये, बसंत सिंह पुत्र तारू राम पशुशाला ध्वस्त होने पर 50 हजार रुपये का नुकसान हुआ है।

चंदेश गांव के कुलदीप के घर की छत उड़ने से 80 हजार रुपये, सूरजपुर बाड़ी के अशोक कुमार का मकान और पशुशाला क्षतिग्रस्त होने पर उसे 1 लाख 20 हजार रुपये की क्षति का अनुमान है। गोहर मुहाल में हरि सिंह, शालू, मझोठी के खेम सिंह, भीम सिंह, दलीप सिंह, जहल के बोल सिंह, शाला के मस्तराम, दिवान, तुला राम की पशुशालाएं ढह गई। मौबीसेरी निवासी हेतराम, कृष्ण कुमार, एले राम, जहल के बृज लाल, सूरज, टीकम सिंह का घर व रसोई घर की छत उड़ गई है। यहां 2.88 लाख का नुकसान आंका गया है। जिला में पेड़ गिरने के कारण कुछ सड़कें बंद हुई थी, जिन्हें बहाल कर दिया गया है।

-----------------

मंडी शहर में दुकानों में घुसा पानी

नगर निगम मंडी की सफाई व्यवस्था की पोल पहली बारिश में खुल गई। नालियां बंद होने के कारण सारा पानी दुकानों में चला गया। गांधी चौक के पास स्थित इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकानों सहित मंगवाई, स्कूल बाजार, सुकोड़ी पुल के पास दुकानदार अपनी दुकानों से पानी को बाहर निकालते देखे गए।

-----------------

बिजली बोर्ड व जलशक्ति विभाग को भी लगी चपत

भारी बारिश के कारण पेड़ों के गिरने से बिजली बोर्ड के भी 40 ट्रासंफार्मर प्रभावित हुए हैं। इसमें 20 के करीब जंजैहली क्षेत्र के ही हैं। शनिवार दोपहर तक बिजली को बहाल कर दिया गया है। मंडी में जलशक्ति विभाग को 10 परियोजनाओं में मलबा आने के कारण आंशिक नुकसान हुआ।

-------------

अब तक 42.76 करोड़ का नुकसान, 60 की मौत

अप्रैल 2021 से जून तक जिला में अब तक 42 करोड़, 76 लाख, 49 हजार 200 रुपये का नुकसान हो चुका है, जबकि विभिन्न हादसों में 60 लोग जान गंवा चुके हैं। इनमें 31 सड़क हादसों, 21 गिरने के कारण काल का ग्रास बने हैं।

------------

किस उपमंडल में, कितना नुकसान

उपमंडल,नुकसान (रुपये)

सरकाघाट,2.36 लाख

गोहर,2.88 लाख

सुंदरनगर,26000

करसोग,4.28 लाख

सदर,1.45 लाख

बल्ह,45000

थुनाग,7.45 लाख

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.