छोटी काशी में 50 करोड़ से निखरेगा पर्यटन

जागरण संवाददाता, मंडी : जिले में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए मंडी शहर के लिए 50 करोड़ रुपये की पर्यटन विकास परियोजना एशियन विकास बैंक को वित्तपोषण के लिए भेजी गई है। यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मंगलवार को वल्लभ राजकीय महाविद्यालय मंडी की हीरक जयंती समारोह की अध्यक्षता करते हुए दी। जयराम ठाकुर ने कहा कि इस परियोजना के तहत मंडी को विश्व पर्यटन मानचित्र पर लाने के लिए क्षेत्र में एक झील तथा अन्य बुनियादी पर्यटन सुविधाओं का विकास किया जाएगा। कांगणी में 10 करोड़ की लागत से बन रहा हेलीपोड का कार्य अंतिम चरण में हैं। जल्द ही उड़ान द्वितीय योजना के तहत यहां से हेलीटैक्सी सेवा शुरू होगी।

विद्यार्थियों को उत्कृष्ट चिकित्सा प्रदान करने के लिए नेरचौक में मेडिकल विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी। कलस्टर विश्वविद्यालय को शीघ्र ही एक परिपूर्ण विश्वविद्यालय बनाया जाएगा। विद्यार्थियों को सुविधा प्रदान करने के लिए महाविद्यालय में शीघ्र ही एक खूबसूरत सभागार का भी निर्माण किया जाएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि व्यक्ति को हमेशा ही सीखने के लिए तैयार रहना चाहिए, क्योंकि जीवन हमें आए दिन कुछ न कुछ अवश्य सिखाता है। इस कॉलेज का उनके जीवन में बहुत बड़ा योगदान है। मुख्यमंत्री ने पड्डल के समीप एक खुले जिम्नेजियम के निर्माण के लिए 25 लाख रुपये की घोषणा की। मंडी शहर में सड़कों की मरम्मत के लिए तीन करोड़ रुपये देने की घोषणा की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने 16.19 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले कलस्टर विश्वविद्यालय भवन की आधारशिला रखी। क्षेत्र के चार महाविद्यालयों को शामिल कर राज्य में कलस्टर विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए 50 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कॉलेज के प्रोफेसर रहे डॉ. धर्मपाल कपूर द्वारा लिखित तीन पुस्तकों का विमोचन किया। उन्होंने कॉलेज की स्मारिका का भी विमोचन किया।

इसके उपरांत, मुख्यमंत्री ने पुराने सुकेती पुल के समीप सुकेती खड्ड से लगती बाइपास सड़क के संरक्षण तथा मृद्धा स्थायित्व कार्य की आधारशिला रखी। इसके निर्माण पर 618.10 लाख रुपये की लागत आएगी। संरक्षण तथा मृद्धा स्थायित्व के अलावा, स्थान के बेहतर उपयोग के लिए चार वर्षा शालिकाओं तथा सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण भी किया जाएगा। उन्होंने 5.12 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले कुल 3340 मीट्रिक टन क्षमता के भारतीय खाद्य निगम के गोदाम की भी आधारशिला रखी। मुख्यमंत्री ने 604 लाख रुपये की लागत से सकोडी खड्ड के तटीकरण कार्य की भी आधारशिला रखी। उन्होंने गणपति नाले पर 11 मीटर लंबे पुल तथा गणपति कुन कतार सड़क में गर्द नाले पर 385.35 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले 24 मीटर लंबे पुल की भी आधारशिला रखी। कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अशोक अवस्थी ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्यों का स्वगत किया। उन्होंने कॉलेज की वार्षिक रिपोर्ट भी पढ़ी। उन्होंने कॉलेज में सभागार, स्टाफ आवास तथा अतिरिक्त भवन के निर्माण के लिए मुख्यमंत्री से आग्रह किया। इस मौके पर कॉलेज के विद्यार्थियों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया। इसके बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बल्ह हलके के राजगढ़ में कोयला माता मंदिर में पूजा अर्चना की। बल्ह हलके में लोगों ने उनका जगह-जगह स्वागत किया।

---------

ये रहे मौजूद :

इस मौके पर शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा, मिल्क फेडरेशन के अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा, सांसद रामस्वरूप शर्मा, विधायक कर्नल इंद्र ¨सह, विनोद कुमार, राकेश जम्वाल, जवाहर ठाकुर, विधानसभा कल्याण समिति के सभापति सुखराम चौधरी, रीता धीमान, किशोरी लाल, इंद्र ¨सह गांधी, कमलेश कुमारी मौजूद रही।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.