गिरने की कगार पर आवासीय भवन

गिरने की कगार पर आवासीय भवन

संवाद सहयोगी सरकाघाट राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (बाल) का आवासीय भवन गिरने की क

JagranFri, 19 Feb 2021 05:46 PM (IST)

संवाद सहयोगी, सरकाघाट : राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (बाल) का आवासीय भवन गिरने की कगार पर है, जो कभी भी बड़े हादसे का कारण बन सकता है। स्थानीय लोगों ने खतरा बन चुके इस आवासीय भवन को गिराकर यहां नया भवन बनाने का आग्रह किया है। दो मंजिला आवासीय भवन का निर्माण साल 1960 में शुरू हुआ था, जो दो साल बाद बनकर तैयार हुआ था। इसके बाद लोक निर्माण विभाग ने इस भवन को शिक्षा विभाग को सौंप दिया था। दोमंजिला भवन में चार आवासीय सेट हैं। स्कूल में दूरदराज क्षेत्र से आने वाले अध्यापकों के लिए यहां आवासीय सुविधाएं दी जाती हैं।

वर्ष 1980 तक इसकी मरम्मत का जिम्मा लोकनिर्माण विभाग के पास रहा और तब तक भवन में रंग रोगन के साथ इसका उचित रखरखाव भी होता रहा है, लेकिन इसके बाद जब शिक्षा विभाग के पास इसकी मरम्मत की कमान आई तक भवन उपेक्षा का शिकार हो गया। इसमें रहने वाले अध्यापक त्योहारों के समय अपने पैसों से रंग रोगन करवाते थे, लेकिन बाद में यह प्रक्रिया भी बंद हो गई तथा इसकी खिड़कियां व दरवाजों को दीमक लग गई। इस भवन पर अब पीपल और अन्य पेड़ उगना शुरू हो गए हैं।

चार वर्ष पूर्व इसे प्रशासन द्वारा असुरक्षित घोषित किया जा चुका है, लेकिन अभी तक इस भवन को नहीं गिराया गया है। प्रेम चंद, रोशन लाल, हरी राम, जगदीश चंद, मेहर सिंह, भीम सिंह, विजय कुमार, लीलाधर सहित अन्य लोगों ने तत्काल प्रभाव से इस असुरक्षित भवन को गिराकर इसके स्थान पर नया भवन बनाने का आग्रह किया है। असुरक्षित भवनों को गिराने के लिए सभी स्कूल प्रधानाचार्य को विभाग की ओर से निर्देश दिए गए हैं। सरकाघाट के वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बाल के भवन की जानकारी स्कूल प्रधानाचार्य से मांग कर इस बारे आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

अमर नाथ राणा, उपनिदेशक प्रारंभिक शिक्षा मंडी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.