World Diabetes Day 2019 : योग से ठीक हुआ 20 साल पुराना रोग, दवाएं भी हो चुकी थी बेअसर

कुल्लू, कमलेश वर्मा। 20 साल मधुमेह से पीड़ित रहीं 59 वर्षीय शम्मी सूद अब मधुमेह की दवा नहीं खाती हैं। योग अपनाने के बाद उनको इस बीमारी से राहत मिली है। छह माह से उन्होंने दवाएं भी खानी बंद कर दी हैं। बकौल शम्मी सूद, 20 साल से उन्हें मधुमेह के कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। बार-बार उपचार के लिए अस्पतालों के चक्कर भी लगाती रही, जिसके चलते उनकी भारी-भरकम धनराशि भी इस उपचार के लिए खर्च हो रही थी। हर दिन दवाएं खाकर वह परेशान हो गई थी और इस दौरान उन्हें किसी ने योग करने की सलाह दी।

शम्मी के अनुसार करीब नौ-दस वर्ष पहले उन्होंने रामशिला में बंदी सूद के यहां सुबह के समय योग करना शुरू किया और शिविर से प्रभावित होकर वह शाम के समय भी घर पर योग करने लगी। कुछ समय के बाद उन्हें योग से असर नजर आने लगा और उसके बाद लगातार योग करती रही। इसका असर यह हुआ कि आज वह पहले से काफी स्वस्थ हैं और करीब छह माह से उन्होंने शुगर की दवाएं तक खाना छोड़ दी हैं।

जब से वह योग कर रही हैं तब से उन्हें शुगर संबंधित ज्यादा दिक्कत पेश नहीं आई और टेस्ट करवाने पर शुगर लेवल भी सही पाया गया।

शम्मी सूद ने बताया कि योग ने उन्हें आज शुगर की इतनी पुरानी बीमारी से छुटकारा दिलाकर नया जीवन दिया है और आज वह पूरी तरह से स्वस्थ है। उन्होंने बताया कि योग आज उनके जीवन का एक अहम हिस्सा बन गया है और वह हर दिन जहां बंदिया सूद के यहां लगाए जाने वाले शिविर में सुबह के समय योग करती हैं वहीं घर पर शाम के समय भी एक-दो घंटे वह योगासन जरूर करती हैं। शम्मी ने बताया कि योग से हम स्वच्छ रह सकते हैं। इसमें कोई खर्च भी नहीं आता है। उन्होंने लोगों से निरोग रहने के लिए योग करने की अपील की है। 

योग में है बीमारियों को भगाने की शक्ति

भारत स्वाभिमान पतंजलि योगपीठ कुल्लू जिला की महिला महा मंत्री बंदिया सूद ने बताया कि योग हमारी धरोहर है। हजारों साल से योग देश व विदेश में लोगों की जीवनशैली का हिस्सा बना है। आज के समय में अनगिनत लोगों ने योग को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाया है और इसका प्रचार-प्रसार करने में जुटे हैं। उन्होंने बताया कि कपाल भाती, अनुलोम-विलोम सहित अन्य सभी आसन करने से लोगों की कई बीमारियां जड़ से खत्म हो रही हैं। वह 11 साल से अपने घर के आसपास के बुजुर्ग, महिलाओं व युवाओं को योग करवा रही हैं, जिससे उन्हें काफी सुकून मिलता है।

सिर्फ 30 रुपये में वादी की खूबसूरती का दीदार, ट्रैक पर जल्द दौड़ेगी विस्टाडोम

योग से वजन कम होता है और वजन कम होने से मधुमेह का स्तर भी अपने आप नीचे चला जाता है। इसको सही तरीके से नियमानुसार किया जाए तो बड़ी से बड़ी बीमारी भी ठीक हो सकती है।

अनिल शर्मा, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी कुल्लू।

 माता वैष्णो देवी आ रहे हैं तो देर न करें, दिखेगा ये खूबसूरत नजारा

 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.