इंदौरा के सुरड़वा में गेहूं की फसल जलकर राख

इंदौरा के सुरड़वा में गेहूं की फसल जलकर राख

संवाद सूत्र भदरोआ इंदौरा के सुरड़वा गांव में वीरवार को शॉर्ट सर्किट से लगी आग में गेहूं

JagranFri, 16 Apr 2021 04:12 AM (IST)

संवाद सूत्र, भदरोआ : इंदौरा के सुरड़वा गांव में वीरवार को शॉर्ट सर्किट से लगी आग में गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। आगजनी में जसविद्र सिंह पुत्र कर्म चंद, बलदेव सिंह पुत्र बाबू राम, पवन सिंह पुत्र धर्म सिंह और बख्शी राम की करीब 50 कनाल भूमि के तैयार फसल पलभर में राख के ढेर में बदल गई। प्रभावित किसानों ने बताया कि दो तीन दिन में कटाई का काम शुरू करना था, लेकिन उससे पहले ही उनकी मेहनत आग की भेट चढ़ गई। पीड़ित किसानों ने बताया कि खेत से गुजर रही बिजली की तारों में अचानक हुए शॉट सर्किट के बाद गिरी चिंगारियों ने आग पकड़ ली। किसानों के शोर मचाने पर गांव के कई लोग मौके पर पहुंचे और को बुझाने का प्रयास करने लगे।

पहले किसानों के खड़ी फसल में ट्रैक्टर टिल्लर चलाया, जिसके बाद पानी की बाल्टियों और दूसरे साधनों का इस्तेमाल कर आग पर काबू पाया। एक किसान ने तो ठेके पर भूमि लेकर गेहूं की बिजाई की थी। स्थानीय लोगों ने विद्युत बोर्ड के प्रति रोष जाहिर करते हुए कहा कि खेतों से गुजरने वाली बिजली की तारें भी जमीन से मात्र सात से आठ फीट की ऊंचाई पर हैं। इतना ही नहीं तारें ढीली होने पर हवा में झुलती हैं, जिसके चलते यहां अकसर शॉर्ट सर्किट जैसी घटनाएं होती रहती हैं।

रिहायशी मकानों तक पहुंच सकती थी आग

अगर स्थानीय लोग मौके पर पहुंचकर आग पर काबू नहीं पाते तो सैकड़ों एकड़ में खड़ी गेहूं की फसल राख के ढेर में तबदील हो जाती। इतना ही नहीं आग साथ लगते रिहायशी मकानों तक भी पहुंच सकती थी। पंचायत प्रधान सुरड़वा ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि इस घटना में चार किसानों की लाखों रुपये की खेतों में तैयार गेहूं की फसल जलकर राख हो गई है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि मौका देखकर पीड़ित किसानों को मुआवजा दिया जाए। इस संबंध में एसडीएम इंदौरा सोमिल गौतम का कहना है कि राजस्व विभाग के अधिकारियों को मौके पर भेजकर किसानों की फसल का आकलन करवाया जाएगा और उन्हें बनता मुआवजा दिया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.