लाहुल में फंसे पर्यटकों को एयरलिफ्ट करने में बाधा बना मौसम, फंसे हैं 221 लोग

हिमाचल प्रदेश में बरसात के तेवर कड़क बने हुए हैं। खराब मौसम लाहुल के उदयपुर में फंसे 175 पर्यटकों को एयरलिफ्ट करने में बाधक बन गया है। उदयपुर में चार दिन से 175 पर्यटक फंसे हैं। सभी को फिलहाल त्रिलोकीनाथ मंदिर में ठहराया गया है।

Richa RanaFri, 30 Jul 2021 09:51 AM (IST)
खराब मौसम लाहुल के उदयपुर में फंसे 175 पर्यटकों को एयरलिफ्ट करने में बाधक बन गया है।

मंडी, जागरण टीम। हिमाचल प्रदेश में बरसात के तेवर कड़क बने हुए हैं। खराब मौसम लाहुल के उदयपुर में फंसे 175 पर्यटकों को एयरलिफ्ट करने में बाधक बन गया है। उदयपुर में चार दिन से 175 पर्यटक फंसे हैं। सभी को फिलहाल त्रिलोकीनाथ मंदिर में ठहराया गया है। उधर डीसी लाहुल स्पीति नीरज कुमार के अनुसार लाहुल की पटन वैली में कुल 221 लोग फंसे हुए हैं।

इस घाटी के चार नाले अभी भी उफान पर हैं। ऐसे में सड़क मार्ग बहाल करना संभव नहीं है। प्रदेश सरकार ने पर्यटकों सहित अन्य फंसे हुए लोगों को एयर लिफ्ट करने अनुमति प्रदान कर दी। इसके लिए हेलीकॉप्टर भी उपलब्ध करवा दिया है। हेलीकॉप्टर शिमला के अनाडेल में तैयार खड़ा है। मौसम साफ होने का इंतजार किया जा रहा है। बारिश की वजह से लाहुल में अभी मौसम खराब है।

उदयपुर हेलीपैड से फंसे लोगों को हेलीकॉप्टर में सिस्सू तक लाया जाएगा। यहां से फिर सड़क मार्ग से गंतव्य को भेजे जाएंगे। फंसे लोगों को त्रिलोकीनाथ मंदिर व विभिन्न सरकारी विश्राम गृहों में ठहराया गया है। प्रशासन की तरफ से खाना उपलब्ध करवाया जा रहा है। डाक्टरों की टीम सबके स्वास्थ्य पर नजर रख रही है।

लाहुल के दौरे पर नहीं जा सके मुख्यमंत्री

मौसम खराब होने की वजह से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अभी लाहुल रवाना नहीं हो पाए हैं। मुख्यमंत्री का सुबह आठ बजे सुंदरनगर से हेलीकॉप्टर में लाहुल जाने का कार्यक्रम था। रोहतांग दर्रे पर घनी धुंध बताई जा रही है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री को तय कार्यक्रम के अनुसार लाहुल घाटी में हुए नुकसान का जायज़ा लेना था।

प्रदेश भर में आज भी बारिश के आसार

पूरे हिमाचल प्रदेश में आज भी बारिश के आसार हैं। इधर कई स्थानों पर बारिश के कारण बिजली और पानी की आपूर्ति प्रभावित हुई है। मंडी शहर के रामनगर में शेड गिरने से पार्किंग में खड़ी कई कार क्षतिग्रस्त हुई है जबकि मंडी कमांद बजौरा मार्ग पर कटोला के पास भूस्खलन से पेड़ गिरा है और यातायात बाधित हो गया है। गौरतलब है कि पुलिस और प्रशासन बार बार पर्यटकों और स्थानीय लोगों से आग्रह कर रहे हैं कि अकारण बाहर न निकलें और पानी के नजदीक न जाएं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.