Piyush Goyal: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने मुख्‍यमंत्री सहित निहारी अटल टनल रोहतांग, वाजपेयी को किया याद

Union Minister Piyush Goyal केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल ने सीएम जयराम ठाकुर के साथ रविवार सुबह अटल टनल रोहतांग निहारी। उन्‍होंने कहा यह टनल देश का गौरव है। केंद्रीय मंत्री ने बीआरओ के कार्य को खूब सराहा।

Rajesh Kumar SharmaSun, 26 Sep 2021 08:32 AM (IST)
केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने सीएम जयराम ठाकुर के साथ रविवार सुबह अटल टनल रोहतांग निहारी।

मनाली, जागरण संवाददाता। Union Minister Piyush Goyal, केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल ने सीएम जयराम ठाकुर के साथ रविवार सुबह अटल टनल रोहतांग निहारी। उन्‍होंने कहा यह टनल देश का गौरव है। केंद्रीय मंत्री ने बीआरओ के कार्य को खूब सराहा। बीआरओ अधिकारियों ने लेह मार्ग पर बनने वाली चार और सुरंगों के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी। बीआरओ चीफ इंजीनियर वीके सिंह ने केंद्रीय मंत्री को अटल टनल के भीतर बने माडल रूम में लेह मार्ग पर बनने वाली चार टनलों की जानकारी दी। केंद्रीय मंत्री ने बीआरओ के विजिटिंग रजिस्टर में हस्ताक्षर कर संदेश भी लिखा।

वीके सिंह ने बताया कि अटल टनल बनने से कारगिल सहित लेह लद्दाख की दूरी 46 किमी कम हो गई है। कारगिल के लिए शिंकुला में टनल बनना प्रस्तावित है, जबकि लेह मार्ग पर तीन टनल बननी हैं। इन सभी टनलों का निर्माण हो जाने के बाद लेह व कारगिल मनाली से 12 महीने जुड़े रहेंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने केंद्रीय मंत्री को सेरी नाले के रिसाव की जानकारी साझा की। उन्‍होंने कहा नाले के रिसाव ने बहुत तंग किया और ऐसी स्थिति उतपन्न हो गई कि आगे बढ़ा जाए या न बढ़ा जाए।

पत्रकारों से बातचीत में पीयूष गोयल ने कहा देश के प्रधाममंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में  सरहदों तक पहुंचना आसान हो रहा है। अटल टनल रोहतांग के बनने से सेना की राह भी आसान हुई है। गोयल ने कहा वो 23 साल बाद मनाली आए हैं। अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कहा कि जब वाजपेयी प्रधानमंत्री थे तो उनसे मिलने 23 साल पहले मनाली आया था। उनसे मनाली निवास में भेंट हुई थी।

अटल टनल निहारने के बाद केंद्रीय मंत्री व मुख्यमंत्री कुल्लू लौट गए। केंद्रीय मंत्री आज कुल्लू के अटल सदन में होने वाले कार्यक्रम में छह शिल्प गुरुओं से संवाद भी करेंगे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। पीयूष गोयल हस्तशिल्प व हथकरघा उद्योग से जुड़े उद्यमियों व कारीगरों की समस्या सुनेंगे। जिन छह शिल्प गुरुओं के साथ पीयूष गोयल संवाद करेंगे, उनमें किरण कुमार, ओपी मल्होत्रा, रुपेश कुमार, उत्तम चंद, गुलाब सिंह व ज्वाला शर्मा शामिल हैं। इनमें ओपी मल्होत्रा सहित कई अन्य राष्ट्रीय शिल्प गुरु अवार्ड से सम्मानित हैं। ये सभी लोग अपने उपलब्धि भरे सफर की जानकारी भी देंगे।

पीयूष गोयल शिमला से हेलिकाप्टर के माध्‍यम से रविवार सुबह नौ बजे के बाद सासे हेलीपैड पहुंचे। वहां से वह अटल टनल रोहतांग के नार्थ पोर्टल पर पहुंचे व सुरंग को निहारा। इसके बाद हेलिकाप्‍टर के माध्‍यम से ढालपुर आएंगे। दोपहर बाद वह चंडीगढ़ के लिए रवाना होंगे।

पीयूष गोयल ने किए जाखू के दर्शन

शिमला। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने अपना कार्यक्रम खत्म करने के बाद जाखू मंदिर पहुंचे। वहां पर उन्होंने पूजा-अर्चना की। खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिंद्र गर्ग ने शिमला के भट्ठाकुफर क्षेत्र के चमियाणा में  डिपो का निरीक्षण किया। उन्होंने इस अवसर पर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत लाभार्थियों को चंपा, मीरा, सोमवती, सेवती, इंदिरा,  नीता ठाकुर, सीमा देवी, शीला देवी, यशोदा तथा विद्या देवी को राशनयुक्त बैग वितरित किए। उन्होंने लाभार्थियों से परस्पर संवाद कायम किया। राजिंद्र गर्ग ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों के सर्वांगीण विकास के लिए प्रयासरत है। विभिन्न योजनाओं के माध्यम से समाज के सभी वर्गों का समान विकास किया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.