जेईई व नीट निशुल्क प्रशिक्षण के लिए राजगढ़ के दो छात्रों का हुआ चयन

जेईई- नीट के निशुल्क प्रशिक्षण के लिए हिमाचल प्रदेश के 100 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमें जिला सिरमौर से सिर्फ 3 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमें से 2 छात्र राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय राजगढ़ के हैं।प्रदेश के लगभग 5604 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी।

Richa RanaWed, 01 Dec 2021 06:00 PM (IST)
जेइइ- नीट के निशुल्क प्रशिक्षण के लिए हिमाचल प्रदेश के 100 विद्यार्थियों का चयन हुआ है।

राजगढ़, संवाद सूत्र। जेईई- नीट के निशुल्क प्रशिक्षण के लिए हिमाचल प्रदेश के 100 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमें जिला सिरमौर से सिर्फ 3 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमें से 2 छात्र राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय राजगढ़ के हैं। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा विद्यार्थियों के हित को ध्यान में रखते हुए हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती विद्यार्थी अनुशिक्षण योजना का आरंभ किया गया जिसमें जेईई तथा नीट के लिए विद्यार्थियों को निशुल्क प्रशिक्षण देने के लिए इस योजना के अंतर्गत 3 नवंबर 2021 को एक आनलाइन परीक्षा का आयोजन किया गया था।

इसमें 12वीं कक्षा के प्रदेश के लगभग 5604 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी। राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय राजगढ़ के प्रधानाचार्य राजेंद्र चौहान ने बताया कि जेईई व नीट परीक्षाओं में हमारे विद्यालय के 26 विद्यार्थियों ने भाग लिया था। जिसमे जेईई- नीट के निशुल्क प्रशिक्षण के लिए हिमाचल प्रदेश के 100 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमें जिला सिरमौर से सिर्फ 3 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिसमे हमारे विद्यालय के दो विद्यार्थी संजीव बख्शी तथा निवेदिता बारहवीं कक्षा का चयन इसके लिए हुआ है। जो कि विद्यालय व जिला सिरमौर के लिए एक बहुत ही गौरव की बात है। प्रधानाचार्य राजेंद्र चौहान द्वारा जानकारी दी गई कि चयनित विद्यार्थियों को हर सप्ताह 12 घंटे का आनलाइन प्रशिक्षण मिलेगा। जिसमें स्कूल शिक्षा बोर्ड की टर्म वन परीक्षाएं समाप्त होने के बाद नीट और जेई का प्रशिक्षण शुरू होगा। इनकी यूट्यूब के माध्यम से लाइव कक्षाएं भी लगाई जाएगी तथा इन विद्यार्थियों का राज्य स्तर पर एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा।

जिसमें ग्रुप के माध्यम से विद्यार्थियों के लिए शिक्षण सामग्री भेजी जाएगी। प्रधानाचार्य राजेंद्र चौहान ने कहा कि सरकार द्वारा निशुल्क योजना के तहत विद्यार्थियों के लिए एक सुनहरा मौका मिला है। इस तरह की योजनाओं में जो विद्यार्थी आर्थिक रूप से पिछड़ा हुआ हो, जोकि कोचिंग में पैसा नहीं लगा सकता। उन सभी विद्यार्थियों के लिए इस तरह की योजना बहुत ही लाभदायक सिद्ध होगी तथा विद्यार्थियों को बिना कोई लापरवाही बरतते हुए इस तरह की परीक्षाओं का तैयारी करनी चाहिए। ताकि इन योजनाओं का पूरा-पूरा लाभ उठाया जा सके। इसके अतिरिक्त प्रधानाचार्य ने कहा कि इससे पूर्व भी इस विद्यालय में आस्था 12वीं कक्षा की छात्रा ने सीएलएटी सुपर हंड्रेड के अंतर्गत निशुल्क परीक्षण के लिए चयनित हुई है।

जो वर्तमान में चंडीगढ़ से कोचिंग ले रही है। जिसमें इस छात्रा को कोचिंग के लिए एक लाख रुपए की धन राशि सरकार द्वारा प्रदान की गई है। प्रधानाचार्य द्वारा स्कूल से चयनित विद्यार्थियों को बहुत-बहुत बधाइयां व शुभकामनाएं दी तथा इसके साथ ही साथ विद्यार्थियों की तैयारी हेतु इनके अध्यापक कमल किशोर प्रवक्ता भौतिक विज्ञान व देव राज प्रवक्ता जीव विज्ञान अन्य सभी अध्यापकों को भी बधाइयां दी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.