रेल सुविधा के लिए एक माह और कीजिए इंतजार

पठानकोट-जोगेंद्रनगर रेल सेक्शन पर रेलगाड़ियों की बहाली के लिए यात्रियों को अभी एक महीना और इंतजार करना पड़ेगा। बारिश के कारण रेल विभाग कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाहता है। हालांकि भूस्खलन के कारण दो महीने से बाधित ट्रैक से मलबे को हटाने का काम विभाग ने पूरा कर लिया है और इस बाबत जानकारी फिरोजपुर मंडल को भी दे दी है।

JagranTue, 21 Sep 2021 02:20 AM (IST)
रेल सुविधा के लिए एक माह और कीजिए इंतजार

पठानकोट-जोगेंद्रनगर रेल सेक्शन पर रेलगाड़ियों की बहाली के लिए यात्रियों को अभी एक महीना और इंतजार करना पड़ेगा। बारिश के कारण रेल विभाग कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाहता है। हालांकि भूस्खलन के कारण दो महीने से बाधित ट्रैक से मलबे को हटाने का काम विभाग ने पूरा कर लिया है और इस बाबत जानकारी फिरोजपुर मंडल को भी दे दी है। अधिकारियों का कहना है कि बरसात थमने के बाद ही रेलगाड़ियों की बहाली के लिए कोई निर्णय लिया जाएगा। पहले अधिकारियों ने सितंबर से रेल सेवा शुरू करने की बात कही थी। मंडल रेलवे फिरोजपुर की प्रबंधक सीमा शर्मा ने कहा कि उन्होंने हाल ही में कार्यभार संभाला है। पूरी जानकारी लेने के बाद ही कोई निर्णय लिया जा सकेगा।

...

ये रेलगाड़ियां हैं बंद

- सुबह 8.45 बजे पठानकोट से जोगेंद्रनगर जाने वाली मेल एक्सप्रेस।

-दिन में 11.45 बजे पठानकोट से जोगेंद्रनगर जाने वाली पैसेंजर।

-दोपहर 1.40 बजे पठानकोट से बैजनाथ जाने वाली पैसेंजर।

-यही रेलगाड़ियां पठानकोट लौटती थीं

....................

कोपरलाहड़-ज्वालामुखी तथा नगरोटा-पालमपुर के बीच ट्रैक पर गिरे मलबे को हटाने का काम पूरा हो चुका है। इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को अवगत करवा दिया है। बारिश थमने के बाद ही रेलगाड़ियों को चलाने का फैसला लिया जाएगा।

-हरपाल सिंह नेगी, पीडब्ल्यूआइ पालमपुर

.........

रेलगाड़ियों के न चलने से लोग परेशान हो रहे हैं। कुछ समय पहले जो रेलगाड़ियां बहाल हुई थीं उनकी समयसारिणी भी सही नहीं थी।

-रूमेल गुलेरिया।

....

ट्रैक से मलबा हटा दिया है तो सभी रेलगाड़ियां चला देनी चाहिए। बसों में ज्यादा पैसे देकर सफर करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

-रमन कुमार

.......

सभी रेलगाड़ियां चला दी जाएं तो कांगड़ा घाटी सहित दूसरे राज्यों से आने वाले पर्यटकों को राहत मिलेगी। विभाग इस दिशा में जल्द कदम उठाए।

-सतपाल मेहरा

......

सभी रेलगाड़ियां जल्द से जल्द चलाई जाएं। साथ ही न्यूनतम किराया 30 से घटाकर 10 रुपये ही रहने दिया जाए।

-रामस्वरूप, उपप्रधान पंचायत कटोरा -प्रस्तुति : रक्षपाल धीमान, नगरोटा सूरियां

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.