318 और विदेशी परिंदों के साथ मृत मिले तीन कौवे

318 और विदेशी परिंदों के साथ मृत मिले तीन कौवे

संवाद सहयोगी धर्मशाला पौंग बांध क्षेत्र में शनिवार को 318 और विदेशी परिंदों के साथ-साथ

JagranSun, 10 Jan 2021 07:07 AM (IST)

संवाद सहयोगी, धर्मशाला : पौंग बांध क्षेत्र में शनिवार को 318 और विदेशी परिंदों के साथ-साथ फतेहपुर में तीन कौवे मृत मिले हैं। मरने वाले विदेशी पक्षियों का आंकड़ा 4020 हो गया है। कौवों को दफना दिया है। पशुपालन विभाग ने कौवों के सैंपल रिपोर्ट में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद चार उपमंडलों देहरा, जवाली, फतेहपुर व इंदौरा के अलावा समूचे कांगड़ा जिले के लिए रैपिड रिस्पांस टीमों की संख्या बढ़ाकर तीन गुना से ज्यादा कर दी हैं। पहले चारों उपमंडलों के लिए 18 टीमें थीं जबकि अब जिलेभर के लिए 55 तैनात कर दी हैं। ये टीमें मृत कौवों के लिए सर्च अभियान चलाएंगी। यह एहतियाती कदम पशुपालन विभाग ने इसलिए उठाया है, क्योंकि कौवे एक स्थान से दूसरे स्थानों के लिए उड़ान भरते हैं।

......................

कौवों में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद अब जिलभेर में रैपिड रिस्पांस टीमें काम करेंगी और मृत मिलने वाले कौवों को दफनाएंगी। जिलेभर में अब 55 रैपिड रिस्पांस टीमें हो गई हैं।

-डा. संजीव धीमान, उपनिदेशक पशुपालन विभाग कांगड़ा।

.........................

पौंग बांध क्षेत्र में शनिवार को 318 और विदेशी परिंदे मृत मिले हैं। रैपिड रिस्पांस टीमें रोजाना मृत मिल रहे परिदों को दफना रही हैं।

-राहुल रोहाने, डीएफओ वन्य प्राणी विग हमीरपुर।

........................

सुंदरनगर के ज्योल में मृत मिले चार पक्षी

सुंदरनगर नगर परिषद के वार्ड छह भड़ोह के ज्योल गांव के जंगल में जंगल बैबलर नस्ल (पीली चोंच वाली चीड़िया) के चार पक्षी मरे मिले हैं। ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी। वन विभाग के अधिकारी वेटरनरी चिकित्सकों के साथ मौके पर पहुंचे व चारों के सैंपल लिए हैं। डीएफओ सुकेत सुंदरनगर सुभाष पराशर ने बताया कि सैंपल जांच के लिए एनआरडीडीएल लैब जालंधर भेज दिए हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.