गमगीन पिता ने खुद को कमरे में किया बंद

संवाद सहयोगी नगरोटा बगवां बिलिंग में रविवार को टेंडम उड़ान भरते समय काल का ग्रास बने नगरो

JagranWed, 24 Nov 2021 03:15 AM (IST)
गमगीन पिता ने खुद को कमरे में किया बंद

संवाद सहयोगी नगरोटा बगवां : बिलिंग में रविवार को टेंडम उड़ान भरते समय काल का ग्रास बने नगरोटा बगवां हलके की पंचायत मूमता के युवक संदीप चौधरी के स्वजन ने हादसे की जांच की मांग उठाई है। संदीप के पिता इतने सदमे में हैं कि उन्होंने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया है।

उन्हें इतना सदमा लगा है कि वह बेटे के अंतिम संस्कार के लिए भी नहीं गए थे। संदीप के चचेरे भाई ने मुखाग्नि दी थी। संदीप के ताया ओमप्रकाश ने बताया कि पायलट सुरक्षित लैंड कर जाता है, जबकि पर्यटक नीचे गिर जाता है तो इसके पीछे साजिश की बू आ रही है। उन्होंने पुलिस से हर पहलू की जांच कर न्याय दिलाने की मांग की है। साथ ही संबंधित कंपनी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग उठाई है। उन्होंने कंपनी की ओर से मुआवजा देने की भी पैरवी की है। स्वजन ने इस बाबत मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को पत्र भी लिखा है। संदीप इससे पहले आठ बार टेंडम उड़ान भर चुका है। साथ ही 20 बार रक्तदान कर जरूरतमंदों की सहायता भी कर चुका है। दिल्ली मेंएक निजी कंपनी में कार्यरत संदीप माता-पिता का इकलौता बेटा था। उसकी बड़ी बहन की शादी हो चुकी है। पिता राजकुमार व माता आशा देवी स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण बेटे की शादी करने का सपना संजो रहे थे लेकिन हादसे ने उनके सपने को पूरा नहीं होने दिया। पिता को बेटे की मौत का विश्वास ही नहीं हो रहा है। कृषि विभाग पालमपुर से बतौर इलेक्ट्रिशियन सेवानिवृत्त हुए राजकुमार ने खुद को कमरे में बंद कर लिया है। परिवारिक सदस्यों का मानना है कि हादसे की तह तक जांच की जाए और अगर कोई दोषी पाया जाता है तो कड़ी कार्रवाई की जाए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.