सभी शिक्षकों को पदोन्नति में दी जाए छूट

सभी शिक्षकों को पदोन्नति में दी जाए छूट

जागरण संवाददाता धर्मशाला प्रदेश सरकार ने 40 शिक्षकों को एकमुश्त छूट व पदोन्नति देकर

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 04:10 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, धर्मशाला : प्रदेश सरकार ने 40 शिक्षकों को एकमुश्त छूट व पदोन्नति देकर टीजीटी से प्रवक्ता बनाया है। इस फैसले का राजकीय कला स्नातक संघ जिला कांगड़ा ने स्वागत किया है। संघ ने मांग की है कि सभी शिक्षकों को पदोन्नति में छूट मिलनी चाहिए। टीजीटी से पदोन्नति पर अंक प्रतिशतता की शर्त को पूर्णतया हटाया जाए। संघ ने मांगों के समर्थन में शीतकालीन सत्र में मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपेगा। यह फैसला बुधवार को संघ की ऑनलाइन हुई बैठक में लिया गया।

कांगड़ा

जिला अध्यक्ष सजय चौधरी ने बताया कि शिक्षक पदोन्नतियों में तत्कालीन प्रथम नियुक्ति समय में प्राप्त न्यूनतम शैक्षणिक योग्यताओं के साथ शिक्षण अनुभव व कार्यशैली को ही तरजीह दी जानी चाहिए। खंड जवाली के अध्यक्ष सुरेश कौंडल व खंड कांगड़ा के प्रधान यशपाल गौड़ ने कहा कि शिक्षकों पर नए नियम थोपना गलत है। पालमपुर के प्रधान राजिंद्र कुमार व नगरोटा बागवां के अध्यक्ष राजेश कुमार पलटा ने कहा कि जब टीजीटी से हेडमास्टर व पीजीटी से प्रिसिपल बनने पर अंक प्रतिशतता नहीं देखी जाती है तो फिर टीजीटी से प्रवक्ता पदों पर ऐसे नियम क्यों थोपे जा रहे हैं। राजा का तालाब के खंड अध्यक्ष कुलबीर सिंह, नूरपुर के नरेश धीमान, नगरोटा सूरियां के अध्यक्ष भारतेंदु शर्मा, धर्मशाला के अध्यक्ष पवन चौधरी ने मांग की है कि सभी शिक्षकों को हमेशा के लिए छूट प्रदान की जाए। ऑनलाइन बैठक में प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कौशल व महासचिव ओमप्रकाश, महासचिव मुकेश शर्मा, मुख्य सलाहकार सुमन कुमार, वित्त महासचिव करतार काजल, उपाध्यक्ष राजकुमार राणा, नीलम कुमारी, अर्जुन सिंह, पृथीपाल, नीलम शर्मा, रीता, पूजा महाजन, नीलम धीमान, अमृता, रानी, सुनीता धड़वाल ने भाग लिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.